scorecardresearch
 

बीमार मसूद अजहर फिर एक्टिव! बालाकोट में घुसपैठ को तैयार 50 ट्रेंड जैश आतंकी

जैश सरगना मसूद अज़हर पहले भी अपने रिश्तेदारों को कश्मीर में आतंक फैलाने के लिए भेज चुका है लेकिन सुरक्षाबलों ने उनका खात्मा कर दिया. भारतीय सेना मसूद अज़हर के भांजे, उसके बॉडीगार्ड और भतीजे को पहले ही मौत के घाट उतार चुकी है.

मौलाना मसूद अजहर (फाइल फोटो- रॉयटर्स) मौलाना मसूद अजहर (फाइल फोटो- रॉयटर्स)

  • घुसपैठ की तैयारी में जैश आतंकी ओसामा यूसुफ
  • क्या एक्टिव हुआ बीमार आतंकी मसूद अजहर
  • कश्मीर में दशहत फैलाने की साजिश नाकाम

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद पाकिस्तान लगातार सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है. इसके पीछे घुसपैठ की साजिश भी है जो भारतीय जवानों की मुस्तैदी की वजह से अब तक विफल ही रही है. लेकिन अब सूत्रों के हवाले से खबर है कि पाकिस्तान जैश आतंकी ओसामा यूसुफ की भारत में घुसपैठ कराने की फिराक में है. यह आतंकी जैश सरगना मसूद अजहर का करीबी बताया जा रहा है.

ओसामा यूसुफ जैश के सबसे सक्रिय कमांडरों में से एक है जो अब तक अफगानिस्तान में था. ओसामा बालाकोट, मनशेरा के जैश सेंटर का इंचार्ज भी है. सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान सियालकोट सेक्टर से ओसामा की घुसपैठ कराना चाहता है. यह आतंकी जैश के गढ़ बहावलपुर की उस्मान वैली के सेंटर का भी कमांडर रह चुका है.

घुसपैठ की फिराक में 50 आतंकी

जैश सरगना मसूद अज़हर पहले भी अपने रिश्तेदारों को कश्मीर में आतंक फैलाने के लिए भेज चुका है लेकिन सुरक्षाबलों ने उनका खात्मा कर दिया. भारतीय सेना मसूद अज़हर के भांजे, उसके बॉडीगार्ड और भतीजे को पहले ही मौत के घाट उतार चुकी है. इन आतंकियों की मौत का बदला लेने के लिए मसूद अज़हर कई बार आतंकियों को कश्मीर भेज चुका है लेकिन सभी ऑपरेशन ऑल आउट के दौरान सुरक्षाबलों के एनकाउंटर में ढेर कर दिए गए. अब मसूद अजहर बालाकोट में ट्रेंड किए गए 50 अन्य आतंकियों की भारत में घुसपैठ कराना चाहता है.

आपको बता दें कि मौलाना मसूद अजहर अपने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का गढ़ बालाकोट में चला रहा था. इस सेंटर को भारत ने एयर स्ट्राइक कर तबाह कर दिया था लेकिन उसके बाद पाकिस्तान ने एक बार फिर से बालाकोट और मानसेहरा में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी कैंपों को दोबारा से एक्टिव कर दिया है.

आतंकी वारदातों का आका

जैश-ए-मोहम्मद भारत ही नहीं अमेरिका, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा में भी अपनी आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे चुका है. संयुक्त राष्ट्र पहले ही इस संगठन को ब्लैकलिस्ट कर चुका है, लेकिन तमाम पाबंदियों के बाद भी पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) में ये आतंकी संगठन सालों से फलता-फूलता आ रहा है.

मसूद अजहर अपनी भारत विरोधी गतिविधियों के चलते जाना जाता है. सालों तक पाकिस्तान ने यह मानने से इनकार किया कि मसूद अजहर उनके देश में है. लेकिन हाल ही में पाकिस्तान ने यह मान लिया था कि मसूद अजहर की तबीयत खराब है और वो पाकिस्तान में ही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें