scorecardresearch
 

देखें- अमरनाथ यात्रियों के रास्ते में कैसे बरस रही हैं चट्टानें

बता दें, गांदेरबल जिले में अमरनाथ यात्रा के बालटाल मार्ग पर हुए भूस्खलन में 5 लोगों की मौत हो गई है. वहीं, तीन अन्य घायल हैं. ये भूस्‍खलन बालटाल मार्ग पर रेलपत्री और बरारीमार्ग के बीच हुआ. मृतकों में चार पुरुषों और एक महिला है.

अमरनाथ यात्रा (फाइल फोटो) अमरनाथ यात्रा (फाइल फोटो)

कश्मीर घाटी में भारी बारिश और भूस्‍खलन की वजह से अमरनाथ यात्रा फिलहाल रोक दी गई है. दरअसल ये यात्रा ऐसे पहाड़ी रास्‍तों से होकर गुजरती है जहां सामान्‍य मौसम में चलना फिरना मुश्‍किल होता है और जब बारिश हो तो इसपर चलना और कठिन हो जाता है. इस वजह से श्रद्धालुओं की सुरक्षा के मद्देनजर अमरनाथ यात्रा पर ब्रेक लगा दी गई है.

वीडियो में देखें अमरनाथ यात्रा के रास्‍तों का हाल

बता दें, गांदेरबल जिले में अमरनाथ यात्रा के बालटाल मार्ग पर हुए भूस्खलन में 5 लोगों की मौत हो गई है. वहीं, तीन अन्य घायल हैं. ये भूस्‍खलन बालटाल मार्ग पर रेलपत्री और बरारीमार्ग के बीच हुआ. मृतकों में चार पुरुषों और एक महिला है.

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश हो रही है. 28 जून से अमरनाथ यात्रा शुरू हुई, जिसके बाद से ही लगातार बारिश के कारण यात्रा बाधित हो रही है. यहां तक कि एक पूरा दिन यात्रा निलंबित भी की गई थी.

खराब मौसम ने अमरनाथ यात्रा के प्रथम दिन भारी व्यवधान पैदा किया और इसके चलते केवल 1,007 श्रद्धालु ही गुफा मंदिर में बर्फ से बने शिवलिंग के दर्शन कर पाए थे. इसके बाद 30 जून को यात्रा पूरे दिन निलंबित की गई थी. आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि अभी तक 54,833 यात्री पवित्र गुफा में दर्शन कर चुके हैं.

बता दें कि 60 दिन की इस यात्रा के लिए अभी तक दो लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने पंजीकरण कराया है. इस यात्रा का समापन 26 अगस्त को होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें