scorecardresearch
 

हिमाचलः सोलन में Monkeypox का संदिग्ध मरीज मिला, कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं

मंकीपॉक्स के मरीज अब भारत में भी तेजी से बढ़ रहे हैं. अब नया संदिग्ध केस हिमाचल प्रदेश में सामने आया है. स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक मरीज की विदेश की ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है. लेकिन लक्षण पाए जाने पर मरीज के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं. मरीज फिलहाल आइसोलेशन में है. आसपास के क्षेत्र में निगरानी रखी जा रही है.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मरीज फिलहाल आइसोलेशन में है
  • मरीज की फॉरेन ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है

कोरोना संक्रमण के बाद अब मंकीपॉक्स बीमारी तैजी से पैर पसारने लगी है. मंकीपॉक्स के केस पहले विदेशों में ही देखने को मिल रहे थे, लेकिन अब भारत में भी इस बीमारी के मरीज मिलने लगे हैं. हिमाचल प्रदेश के सोलन में मंकीपॉक्स का मरीज मिला है. लेकिन चौंकाने वाली बात ये है कि मरीज को कोई भी फॉरेन ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है.

स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में मंकीपॉक्स का एक संदिग्ध मरीज सामने आया है. मरीज के सैंपल लेकर पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी भेजे गए हैं, ताकि मंकीपॉक्स की पुष्टि हो सके.

जानकारी के मुताबिक बद्दी इलाके के रहने वाले शख्स में 21 दिन पहले संक्रमण के लक्षण दिखे थे. हालांकि वह फिलहाल स्वस्थ्य है. लेकिन प्रदेश में मंकीपॉक्स का संदिग्ध मरीज मिलने से स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है.

स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक एहतियात के तौर पर मरीज को आइसोलेशन में रखा गया है और आसपास के इलाकों में निगरानी की जा रही है. हैरानी वाली बात ये है कि मरीज की विदेश की ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है.

मंकीपॉक्स के लक्षण


- बुखार आना.
- स्किन पर चकत्ते पड़ना. ये चेहरे से शुरू होकर हाथ, पैर, हथेलियों और तलवों तक हो सकते हैं.
- सूजे हुए लिम्फ नोड. यानी शरीर में गांठ पड़ना.
- सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द या थकावट.
- गले में खराश और खांसी आना.


ये भी देखें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें