scorecardresearch
 

खालिस्तान समर्थक की CM जयराम को खुली धमकी, 15 अगस्त को फहराने नहीं देंगे तिरंगा

अब बता दें कि ये खुली धमकी खालिस्तानी समर्थक और सिख फॉर जस्टिस संगठन के आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू की तरफ से दी गई है. उसने बकायदा एक ऑडियो रिकॉर्ड किया है और फिर कॉल के जरिए उसे कुछ पत्रकारों तक पहुंचा दिया है. 

जयराम ठाकुर को खालिस्तानी समर्थक की धमकी ( फाइल फोटो) जयराम ठाकुर को खालिस्तानी समर्थक की धमकी ( फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जयराम ठाकुर को खालिस्तानी समर्थक की धमकी
  • झंडा ना फहराने की चेतावनी
  • हिमाचल को पंजाब में मिलाने की बात

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को खालिस्तानी समर्थक द्वारा शुक्रवार को खुली धमकी दी गई है. धमकी में कहा गया है कि सीएम को 15 अगस्त को झंडा नहीं फहराने दिया जाएगा. वहीं सीएम को रोकने के लिए किसानों को भी भड़काने की कोशिश की गई है. कहा गया है कि किसान ट्रैक्टर लेकर आएं और सीएम को तिरंगा फहराने से रोक दें.

जयराम ठाकुर को खालिस्तानी समर्थक की धमकी

अब बता दें कि ये खुली धमकी खालिस्तानी समर्थक और सिख फॉर जस्टिस संगठन के आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू की तरफ से दी गई है. उसने बकायदा एक ऑडियो रिकॉर्ड किया है और फिर कॉल के जरिए उसे कुछ पत्रकारों तक पहुंचा दिया है. उस ऑडियो के जरिए एक तरफ सीएम जयराम ठाकुर को धमकी दी गई है तो वहीं दूसरी तरफ हिमाचल प्रदेश  को फिर पंजाब का हिस्सा बनाने की बात कही गई है.
 

झंडा ना फहराने की चेतावनी

ऑडियो में दलील दी जा रही है कि पहले हिमाचल, पंजाब का हिस्सा हुआ करता था. ऐसे में अब फिर हिमाचल को पंजाब में मिलाया जाए. पन्नू द्वारा पंजाब में जनमत संग्रह की बात भी लगातार कही जा रही है. 44 सेंकेड के इस ऑडियो को तय रणनीति के तहत वायरल करवाया गया है. अपने संदेश को कम समय में ज्यादा लोगों तक पहुंचाने की तैयारी दिखी है. जिस नंबर से ये ऑडियो सेंड किया गया है वो इस प्रकार है- 442039061459.

हिमाचल को पंजाब में मिलाने की बात

इस धमकी पर सीएम जयराम ठाकुर ने कहा है कि मामले की जांच की जा रही है. उनकी तरफ से इस बात पर भी जोर दिया गया है कि वे तय कार्यक्रम के तहत 15 अगस्त को सबकुछ करेंगे. वे कहते हैं कि वे ऐसी धमकियों से वे नही डरते, वे 15 अगस्त को जहां पर राज्य स्तरीय कार्यक्रम होगा वहां तिंरगा जरूर लहराएगें. ऐसे में अगर खालिस्तान की तरफ से धमकी आई है तो सीएम जयराम ने भी अपनी नीयत साफ कर दी है. उनका संदेश भी एकदम स्पष्ट है और वे 15 अगस्त को झंडा फहराने की तैयारी कर रहे हैं.

सरकार ने दिए कार्रवाई के आदेश

अब ये पहली बार नहीं है जब  खालिस्तानियों द्वारा इस तरह से अपने प्रोपेगेंडा को धार दी गई हो. कई मौकों पर किसानों के नाम पर भड़काने का काम हुआ है, भारत में सोशल मीडिया के जरिए अशांति फैलने का प्रयास रहा है. हिमाचल प्रदेश के कुछ इलाकों में भी खालिस्तानी के झंडों को भी जानबूझकर फरहाया गया है. ऐसे में अब जब सीएम जयराम को ये धमकी दी गई है, तो सरकार ने भी सख्त कार्रवाई के निर्देश दे दिए हैं.

(मंडी से परी शर्मा की रिपोर्ट)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें