scorecardresearch
 

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज बोले- रेप जैसे मामलों की हो समरी ट्रायल

हैदराबाद गैंगरेप के आरोपियों के एनकाउंटर पर हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि रेप जैसे मामलों में समरी ट्रायल होना चाहिए, जिसमें जूरी के रूप में स्थानीय लोग भी हों.

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (फाइल फोटोः पीटीआई) हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (फाइल फोटोः पीटीआई)

  • विज बोले, जूरी में हों स्थानीय नागरिक भी
  • न कोई दलील न अपील, मौके पर हो फैसला

हैदराबाद गैंगरेप के आरोपियों के एनकाउंटर पर हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि रेप जैसे मामलों में समरी ट्रायल होना चाहिए, जिसमें जूरी के रूप में स्थानीय लोग भी हों. इन मामलों में न कोई दलील, न कोई अपील, फैसला तुरंत मौके पर होना चाहिए.

गौरतलब है कि विज का यह बयान तब आया है, जब हैदराबाद में दरिंदों की दरिंदगी का शिकार हुई महिला डॉक्टर के आरोपियों को पुलिस ने मार गिराया. पुलिस के एनकाउंटर पर जहां भारतीय जनता पार्टी ने जहां हैदराबाद पुलिस की सराहना की है, वहीं राजनीतिक गलियारों से मिश्रित प्रतिक्रिया आ रही है.

बीजेपी की ही सांसद मेनका गांधी ने इसे भयानक बताते हुए कहा कि आरोपियों को सजा कानूनी प्रक्रिया के तहत दी जानी चाहिए. मेनका ने कहा कि कानून हाथ में नहीं लिया जाना चाहिए. जब इसी तरह मारना हो तो पुलिस और अदालतों का क्या काम.

वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने आरोपियों को कानूनी प्रक्रिया के तहत फांसी की सजा दिए जाने की बात कही. सुप्रीम कोर्ट की वकील वृंदा ग्रोवर ने एनकाउंटर की स्वतंत्र न्यायिक जांच कराने की मांग करते हुए पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें