scorecardresearch
 

भूपेंद्र सिंह हुड्डा बोले- खट्टर सरकार ने जनता का भरोसा खोया, लाएंगे अविश्वास प्रस्ताव

किसान आंदोलन के बीच हरियाणा में भी सियासी सरगर्मियां बढ़ी हुई हैं. पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने राज्य में मनोहर लाल खट्टर की सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने कहा है कि राज्य में मौजूदा सरकार ने लोगों का भरोसा खो दिया है. कांग्रेस विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव लगाएगी.

 पूर्व CM और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा (फाइल फोटो) पूर्व CM और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का ऐलान
  • हुड्डा ने राज्य सरकार को सबसे भ्रष्ट सरकार बताया
  • राज्य सरकार ने लोगों का भरोसा खो दिया है- हुड्डा

किसान आंदोलन के बीच हरियाणा में भी सियासी सरगर्मियां बढ़ी हुई हैं. पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने राज्य में मनोहर लाल खट्टर की सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने कहा है कि राज्य में मौजूदा सरकार ने लोगों का भरोसा खो दिया है. कांग्रेस विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव लगाएगी.

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि मनोहर लाल खट्टर की सरकार के गठबंधन सहयोगी के विधायक ही कह रहे हैं कि यह सबसे भ्रष्ट सरकार है. न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार हुड्डा ने कहा, 'हम विधानसभा में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएंगे. इस सरकार ने लोगों का भरोसा गवां दिया है. लिहाजा हम अविश्वास प्रस्ताव लेकर आएंगे. सरकार को समर्थन देने वाले दो निर्दलीय विधायकों ने अपना समर्थन वापस ले लिया है. गठबंधन सहयोगी पार्टी के कुछ विधायकों ने कहा कि यह सबसे भ्रष्ट सरकार है.'

सोनीपत में किसान महापंचायत

हरियाणा में कांग्रेस पार्टी की कृषि कानूनों को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के खिलाफ अभियान जारी है. सोनीपत के पुरखास गांव में राज्यसभा सांसद और कांग्रेस नेता दीपेंद्र हुड्डा ने 21 फरवरी को किसान महापंचायत की. इस दौरान उन्होंने बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार जब से सत्ता में आई है देश की जनता बहुत परेशान है. बीजेपी सरकार में बढ़ती महंगाई ने देश की जनता की कमर तोड़ दी है.

किसान आंदोलन पर दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि बीजेपी शांतिपूर्ण आंदोलन को फेल करने के लिये हर हथकंडा अपना रही है. लेकिन सरकार के इन प्रयासों के बावजूद आंदोलन कमजोर पड़ने की बजाय और मजबूत होता चला जा रहा है. किसानों पर कांग्रेस राजनीति नहीं कर रही बल्की किसानों के आंदोलन का समर्थन कर रही है.

दीपेंद्र हुड्डा ने अभय चौटाला पर कहा कि इस्तीफा देने से सरकारें नहीं गिरतीं. विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए विपक्ष को एकजुटता दिखानी चाहिए थी. इस्तीफा देने से बीजेपी को लाभ मिला है. दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि प्रदेश में महंगाई चरम सीमा पर है. सरकार ने पिछले पांच साल में किसानों के समर्थन मूल्य में हुई 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी की जबकि पेट्रोल-डीजल के दामों में 90 प्रतिशत की वृद्धि कर दी गई.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें