scorecardresearch
 

रेप, मर्डर और टकराव ने 'किसान' शब्द को धूमिल किया, आंदोलन पर बोले सीएम खट्टर

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि किसान शब्द बेहद पवित्र है, लेकिन इस आंदोलन में बहन-बेटियों की इज्जत लूटी गई, मर्डर हो गए, पंचायतों में टकराव हो रहे हैं, जिसने 'किसान' शब्द की गरिमा को धूमिल किया है.

X
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • खट्टर ने किसान आंदोलन पर खड़े किए सवाल
  • कहा- हम संयम बरत रहे हैं, इसे कमजोरी न समझे

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को चुनौती दी है. उनका कहना है कि किसान आंदोलन को 7 महीने से ज्यादा का समय हो गया है, हमने तमाम कानूनों की उपलब्धियां बताई है, लेकिन इसकी कमियां क्या है, वह किसान बता नहीं रहे हैं. 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि किसान शब्द बेहद पवित्र है, लेकिन इस आंदोलन में बहन-बेटियों की इज्जत लूटी गई, मर्डर हो गए, पंचायतों में टकराव हो रहे हैं, जिसने 'किसान' शब्द की गरिमा को धूमिल किया है, हम संयम बरत रहे हैं लेकिन वह धमकी देते हैं, यह तमाम चीजें अलोकतांत्रिक है.

किसान आंदोलन कर रहे आंदोलनकारियों को नसीहत देते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि हम संयम से काम ले रहे हैं, मगर सीमा लांघने किसी को नहीं दी जाएगी, ऐसे में लिख कर दें कि शांतिपूर्वक आंदोलन करेंगे, पहले कई मुख्यमंत्रियों के कार्यकाल में कितने कांड हुए है हम तो संयम बरत रहे हैं.

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि जब उन्होंने अपनी हदें पार कर दीं तो हमें उनसे यह लिखित में देने के लिए कहना पड़ा कि उनका विरोध अहिंसक होगा, अगर हिंसा होती है तो एफआईआर दर्ज की जाएगी और उन्हें भी कोर्ट का नोटिस मिलेगा.

खोरी गांव में तोड़फोड़ पर सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि उनके पुनर्वास को लेकर डबुआ कलोनी में JNURM के फ्लैट हैं, जिसे बैंक फार्मेलिटी के बाद उन्हें दिया जाएगा, हमने पता किया है ऐसे 1400 परिवार हैं, जो हरियाणा के वोटर हैं, जिनकी संख्या करीब 3400 है, उन्हे हम ये फ्लेट्स दे रहे हैं, बाकी दिल्ली के वोटर हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें