scorecardresearch
 

गुरुग्राम: लाखों का फ्लैट छोड़ गाड़ियों में रात क्यों गुजार रहे हैं लोग, 700 परिवार मुसीबत में

गुरुग्राम की महंगी सोसाइटी में रहने वाले लोग को अपना फ्लैट छोड़कर कार में रात गुजारने के लिए मजबूर होना पड़ रह है. पिछले कई घंटों से 700 परिवारों के घर में बिजली नहीं है.

गुरुग्राम की सोसाइटी में कई घंटों से बिजली गुल गुरुग्राम की सोसाइटी में कई घंटों से बिजली गुल
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गुरुग्राम की सोसाइटी में घंटों बिजली गुल
  • सोसाइटी में रहने वाले 700 परिवार बेहाल
  • फ्लैट छोड़ गाड़ियों में रात गुजारने पर मजबूर लोग

गुरुग्राम की महंगी सोसाइटी में रहने वाले लोग को अपना फ्लैट छोड़कर कार में रात गुजारने के लिए मजबूर होना पड़ रह है. पिछले कई घंटों से 700 परिवारों के घर में बिजली नहीं है. जिसकी वजह से उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. बढ़ती गर्मी ने इन लोगों की हालत को और भी ज्यादा खराब कर दिया है. जिसकी वजह से कई लोगों को अपनी गाड़ियों में एसी चला कर रात गुजारनी पड़ी. सोसाइटी में रहने वाले लोगों का कहना है कि गुरुवार सुबह साढ़े 6 बजे से बिजली गुल है. 

सोसाइटी में  घंटों से बिजली गुल 

लोगों का कहना है कि बिल्डर से लाखों रुपये की कीमत के अफोर्डेबल हाउस तो खरीद लिया पर कुछ रुपये की बचत के लिए बिल्डर के हाथों ऐसे फसे की पिछले कई घंटों से बिजली के बिना रहना पड़ रहा है. गुरुग्राम के सेक्टर-37C स्थित एपेक्‍स ऑवर होम्स सोसाइटी के नाम से एक सोसायटी बनी हुई है.  जो की एपेक्स बिल्डवेल प्राइवेट लिमिटेड नाम के बिल्डर द्वारा बनाई गई है. 

सोसाइटी के 700 परिवार बेहाल 

सोसायटी के लोगों का आरोप है कि बिल्डर ने लोगों को धोखा दिया है उसने पैसे बचाने के लिए सोसायटी में 100 KVA का सब स्टेशन बनाया.  लेकिन 700 फ्लैट में रहने वाले परिवारों के हिसाब से बेहद कम है. यहां पर लगभग 3000 KVA का सब स्टेशन की जरूरत है. गर्मी के बढ़ते ही सभी फ्लैट का लोर्ड बढ़ जाता है और सब स्टेशन फेल हो जाता है जिसकी वजह से बिजली चली जाती है. 

गाड़ियों का AC चलाकर लोगों ने गुजारी रात 

बिना बिजली न होने बुजुर्गों और बच्चों का हाल सबसे ज्यादा खराब है. बिजली विभाग में गुहार लगाने के बाद भी अब तक कोई सुनवाई नहीं हुई है. सोसाइटी के लोगों का कहना है कि यहां फॉल्ट बिजली विभाग का नहीं बल्कि बिल्डर द्वारा बनाए गए काम केपेसिटी के सब स्टेशन का है. जिसकी वजह से लोगों को परेशान होना पड़ रहा है.  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें