scorecardresearch
 

फरीदाबाद में स्कूल में लगी आग, दो बच्चों समेत 3 की मौत

ये मामला फरीदाबाद के डबुआ कॉलोनी का है. शनिवार सुबह एक कॉन्वेंट स्कूल की बिल्डिंग में अचानक लग गई. देखते ही देखते आग प्रंचड हो गई और धधकते हुए ऊपरी मंजिल तक पहुंच गई. गर्मी छुट्टी होने की वजह से स्कूल तो बंद था, लेकिन बिल्डिंग के ऊपरी तल में स्कूल संचालक का परिवार रहता था.

फरीदाबाद के स्कूल में आग की तस्वीर (फोटो-एएनआई) फरीदाबाद के स्कूल में आग की तस्वीर (फोटो-एएनआई)

दिल्ली से सटे फरीदाबाद में शनिवार को एक प्राइवेल स्कूल में आग लग गई. इस घटना में दो बच्चे और एक महिला की मौत हो गई है. इस घटना ने कुछ ही दिन पहले सूरत के कोचिंग सेंटर में लगी आग की यादें ताजा कर दी. सूरत के इस हादसे में 21 बच्चे मारे गए थे.

ये मामला फरीदाबाद के डबुआ कॉलोनी का है. शनिवार सुबह एक कॉन्वेंट स्कूल की बिल्डिंग में अचानक आग लग गई. देखते ही देखते आग प्रंचड हो गई और धधकते हुए ऊपरी मंजिल तक पहुंच गई. गर्मी की छुट्टी होने की वजह से स्कूल तो बंद था, लेकिन बिल्डिंग के ऊपरी तल में स्कूल संचालक का परिवार रहता था.

स्कूल से काला धुआं उठता देख चारों तरफ चीख पुकार मच गई. आनन फानन में कुछ स्थानीय लोग उन्हें बचाने के लिए दौड़े जबकि कुछ लोगों ने फायर ब्रिगेड को इसकी सूचना दी. फायरब्रिगेड और पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और स्थानीय लोगों की मदद से आग में फंसे लोगों का रेस्क्यू किया गया. आग की चेपेट में आए परिवार को बाहर निकालने में काफी दिक्कतें आ रही थी. तब स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस और फायरब्रिगेड की टीम ने दूसरी मंजिल की खिड़की को तोड़ा और सीढ़ी के सहारे अंदर फंसे लोगों को बाहर निकाला गया.

हालांकि दुख की बात ये रही कि पूरी कोशिश के बाद भी इन्हें बचाया नहीं जा सका. स्थानीय लोगों के मुताबिक यह आग बिजली के शॉट शर्किट की वजह से लगी है. उन्होंने कहा कि यहां बिजली के तारों का जाल फैला हुआ है, रास्ते मे ट्रांसफार्मर है और स्पार्किंग से आए दिन हादसे होते रहते हैं.

वहीं पुलिस इस मामले में अभी जांच की बात कह रही है. पुलिस के मुताबिक सभी को रेस्क्यू करके बाहर निकाल लिया गया है जिनमें दो बच्चे और एक महिला की मौत हो चुकी है. पुलिस ने कहा कि हादसे के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें