scorecardresearch
 

गुरुग्राम: झोलाछाप डॉक्टर्स गिरफ्तार, फर्जी डक्यूमेंट्स के सहारे चला रहे थे क्लीनिक

पुलिस के मुताबिक गुरुग्राम स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पुलिस को एक लिखित शिकायत देकर आरोप लगाया था कि झोला छाप डॉक्टर्स मरीजों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं.

झोलाछाप डॉक्टर्स गिरफ्तार झोलाछाप डॉक्टर्स गिरफ्तार

डॉक्टर बंगाली राजलक्ष्मी क्लीनिक और बंगाली क्लीनिक, हर रोग का तसल्ली से इलाज करने का दावा करने वाले ये वो डॉक्टर्स हैं जो बिना किसी डिग्री और डिप्लोमा के मरीजों का सफल इलाज करने का दावा करते हैं. गुरुग्राम के बादशाहपुर इलाके में बिना किसी डॉक्यूमेंट के हेल्थ क्लीनिक चला रहे ऐसे ही दो डॉक्टरों को पुलिस ने गिरफ्तार किया गया है. ये किसी भी आम एमबीबीएस स्पेशलिस्ट की तरह अपने बोर्ड के जरिए हर रोग के इलाज का दावा किया करते थे. रविवार को गुरुग्राम स्वास्थ्य विभाग और पुलिस विभाग की ज्वाइंट टीम ने इन दोनों के क्लीनिक पर रेड मारी थी.

पुलिस के मुताबिक गुरुग्राम स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पुलिस को एक लिखित शिकायत देकर आरोप लगाया था कि झोलाछाप डॉक्टर्स मरीजों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. इस शिकायत पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने बादशाहपुर थाना में दोनों आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है.

गुरुग्राम में झोलाछाप डॉक्टर्स पर कार्रवाई करने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने डिप्टी सीएमओ के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया है. ये टीम गुरुग्राम के शहर और ग्रामीण इलाकों में जाकर इलाज के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले डॉक्टरों पर नकेल कसने में लगी है. हालांकि ये कोई पहला वाक्या नहीं है जब झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई हुई हो लेकिन हैरानी की बात ये है कि स्वास्थ्य विभाग के सख्त रवैये के बावजूद भी मरीजों के स्वास्थ्य के साथ लगातार खिलवाड़ करने वाले झोलाछाप डॉक्टरों पर कोई ठोस अंकुश नहीं लग पा रहा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें