scorecardresearch
 

1 लाख बाइक संग रैली निकालेंगे शाह, NGT ने खट्टर सरकार से मांगा जवाब

एनजीटी में दाखिल अर्जी में कहा गया है कि अमित शाह की रैली प्रदूषण के लिए खतरा हो सकती है, क्योंकि इसमें करीब 1 लाख से अधिक बाइक शामिल होंगी.

FILE PHOTO FILE PHOTO

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह की हरियाणा के जींद  में 15 फरवरी को प्रस्तावित बाइक रैली पर लगातार ग्रहण लगता जा रहा है. पहले इस रैली को रोकने के लिए जाटों ने ऐलान कर दिया है, अब इसी रैली के खिलाफ एनजीटी में एक अर्जी डाली गई है. एनजीटी में दाखिल अर्जी में कहा गया है कि अमित शाह की रैली प्रदूषण के लिए खतरा हो सकती है, क्योंकि इसमें करीब 1 लाख से अधिक बाइक शामिल होंगी.

एनजीटी ने इस मामले पर त्वरित कार्रवाई करते हुए हरियाणा सरकार से 13 फरवरी तक जवाब में हलफनामा देने को कहा है. यह याचिका विक्टर ढीसा नाम के वकील ने समीर सोढ़ी के द्वारा दाखिल की है.

गौरतलब है कि प्रस्तावित बाइक रैली का रास्ता रोकने का ऐलान अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने भी किया है. समिति की तरफ से जींद में 750 ट्रैक्टरों का अभी तक रजिस्ट्रेशन हो चुका है. वहीं, अन्य जिलों में समिति रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चला रही है.

बता दें कि जाट आरक्षण आंदोलन में मारे गए लोगों की याद में 18 फरवरी को प्रदेश में बलिदान दिवस मनाया जा रहा है. जिसके चलते 15 फरवरी को जींद के 7 मुख्य रास्तों पर बच्चे और महिलाओं के साथ ट्रैक्टर ट्रॉली लेकर जाट पहुंचेंगे.

दिखाए जाएंगे काले झंडे...

जाट आरक्षण संघर्ष समिति के जिला अध्यक्ष जयबीर टिटोली का कहना है कि इस रैली के दौरान अमित शाह को काले झंडे दिखाकर विरोध जताया जाएगा. अगर पुलिस ने उन्हें रोका, तो वे बीच सड़क पर धरने पर बैठ जाएंगे. पूरे हरियाणा से 15 फरवरी को ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर समाज के लोग लाखनमाजरा चौक पर आएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें