scorecardresearch
 

लड़कियों के कपड़े उतरवाने के मामले में सरकार गंभीर, CM रूपाणी ने दिए कार्रवाई के आदेश

भुज में लड़कियों के कपड़े उतरवाए जाने के मामले में गुजरात सरकार गंभीर है. इस मामले में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा है कि सरकार ने घटना को बहुत गंभीरता से लिया है.

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी (फाइल फोटो-आजतक) गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी (फाइल फोटो-आजतक)

  • शिक्षा विभाग को सख्त कार्रवाई करने के आदेश
  • 14 फरवरी को एफआईआर दर्ज की जा चुकी है

भुज में लड़कियों के कपड़े उतरवाए जाने के मामले में गुजरात सरकार गंभीर है. इस मामले में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा है कि सरकार ने घटना को बहुत गंभीरता से लिया है.

गृह विभाग और शिक्षा विभाग को सख्त कार्रवाई करने के आदेश जारी किए हैं. साथ ही इस मामले में 14 फरवरी को एफआईआर दर्ज की जा चुकी है.

ये भी पढ़ेंः गुजरात: लड़कियों के कपड़े उतरवाने के मामले में प्रिंसिपल, हॉस्टल वार्डन समेत 4 पर FIR

गुजरात के भुज जिले में श्री सहजानंद गर्ल्स इंस्टीट्यूट में यह सनसनीखेज घटना सामने आई थी. यह खबर एक स्थानीय मीडिया संस्थान में प्रकाशित होने के बाद सामने आ पाई. इस मीडिया रिपोर्ट के अनुसार लड़कियों को कॉलेज में पीरियड्स के दौरान किसी भी अन्य छात्र या छात्रा से हाथ मिलाने या गले मिलने की भी अनुमति नहीं है.

ये भी पढ़ें--गुजरात: लड़कियों के कपड़े उतरवाने के मामले में NCW ने लिया संज्ञान, जांच कमेटी गठित

बहरहाल, लड़कियों के कपड़े उतरवाए जाने के मामले पर राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने संज्ञान लिया है. NCW ने इसे परेशान करने वाली घटना बताया है. इसके लिए जांच समिति गठित की है जो हॉस्टल का दौरा करेगी. साथ ही लड़कियों को ऐसी घटनाओं पर आगे आने और बोलने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा.

रिपोर्ट के मुताबिक, कॉलेज के प्रिंसिपल ने 68 लड़कियों के कपड़े उतरवा कर इस बात की जांच कराई कि वे मासिक धर्म (पीरियड्स) से गुजर रही हैं या नहीं. साथ ही यह आदेश भी जारी किया गया है कि पास स्थित मंदिर में पीरियड्स से गुजर रही लड़कियां न जाएं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें