scorecardresearch
 

उरी में शहीद जवानों के परिवार की मदद के लिए आगे आए सूरत के व्यापारीं

कश्मीर के उरी आतंकी हमले में शहीद हुए सेना के जवानों के परिवार वालों की मदद करने के लिए सूरत के उद्योगपति आगे आए हैं. इनमें से एक उद्योगपति तुषार घेलानी ने शहीद परिवारों की मदद के 15 लाख रुपये और हर वर्ष अपनी फिजूल खर्ची को बंद कर 5 लाख रुपये सेना को देने की घोषणा फेसबुक पर की है.

X
उरी के शहीदों के परिवार की मदद के लिए आगे आए महेश सवाणी उरी के शहीदों के परिवार की मदद के लिए आगे आए महेश सवाणी

कश्मीर के उरी आतंकी हमले में शहीद हुए सेना के जवानों के परिवार वालों की मदद करने के लिए सूरत के उद्योगपति आगे आए हैं. इनमें से एक उद्योगपति तुषार घेलानी ने शहीद परिवारों की मदद के 15 लाख रुपये और हर वर्ष अपनी फिजूल खर्ची को बंद कर 5 लाख रुपये सेना को देने की घोषणा फेसबुक पर की है.

तो वहीं इसी तरह उद्योगपति महेश सवानी ने शहीद सैनिकों के बच्चों की पढ़ाई लिखाई का आजीवन खर्च उठाने की घोषणा के साथ-साथ बेटियों की शादी विवाह का भी खर्च उठाकर बिना पिता की इन बेटियों की जिम्मेदारी उठाने की घोषणा की है. शहीद परिवारों तक पहुंचने के लिए उद्योगपति महेश भाई सवानी अपनी 5 सदस्यीय टीम बनाकर देश के प्रधानमंत्री और रक्षामंत्री को पत्र लिखेंगे.

शहीदों के बच्चों ने दिया साहस का परिचय
सूरत के मशहूर बिजनेसमैन महेश सवाणी ने कहा कि शहीदों के बच्चों ने जिस साहस का परिचय दिया है, उससे मैं गर्व का अनुभव करता हूं. मेरे कोई बेटी नहीं है, इसलिए बेटियों की कमी और उनके दर्द को समझता हूं. इसलिए जैसे ही मैंने उन बच्चों के बयानों को सुना कि वे भी पिता की राह पर चलकर देश सेवा करना चाहते हैं, तो मैंने यह निर्णय ले लिया.

शहीदों के परिवारों को 1 करोड़ की सहायता
इसी तरह सूरत के एक उद्योगपति अनु तेजानी ने शहर के अखबारों में विज्ञापन देकर उरी में शहीद हुए परिवारों को 1 करोड़ रुपये आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है. शहीद सैनिकों के परिवार वालों की मदद करने आए सूरत के इन उद्योगपतियों का कहना है कि टीवी पर परिवारों का दर्द उनसे देखा नहीं गया इसलिए वो उन परिवारों की मदद के लिए आगे आए है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें