scorecardresearch
 

राज्यसभा चुनाव: गुजरात के सभी कांग्रेसी विधायक भेजे जाएंगे माउंट आबू

गुजरात में राज्यसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस अभी से तैयारियों में जुट गई है. क्रास वोटिंग से बचने के लिए कांग्रेस अपने विधायकों को आबू ले जाएगी. आज यानी बुधवार शाम सभी विधायक बस से आबू के लिए रवाना होंगे. बता दें, राज्यसभा की दो सीटों के लिए 5 जुलाई को वोटिंग होनी है. इससे पहले 2017 में राज्यसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस के विधायकों को बेंगलुरु भेजा गया था.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी.

गुजरात में राज्यसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस अभी से तैयारियों में जुट गई है. क्रास वोटिंग से बचने के लिए कांग्रेस अपने विधायकों को आबू ले जाएगी. आज यानी बुधवार शाम सभी विधायक बस से आबू के लिए रवाना होंगे. बता दें, राज्यसभा की दो सीटों के लिए 5 जुलाई को वोटिंग होनी है. इससे पहले 2017 में राज्यसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस के विधायकों को बेंगलुरु भेजा गया था.

गृह मंत्री व बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के लोकसभा के लिए चुने जाने पर राज्यसभा की ये दो सीटें खाली हो चुकी हैं. जून में कांग्रेस ने यह मांग उठाई थी कि दोनों बीजेपी नेताओं के लोकसभा में चुने जाने के बाद जो सीटें खाली हुई हैं, उस पर एक ही दिन चुनाव कराए जाएं. 2019 लोकसभा चुनाव में अमित शाह गुजरात की गांधीनगर सीट से बंपर वोटों से जीते. वहीं स्मृति ईरानी ने कांग्रेस के दुर्ग अमेठी में राहुल गांधी को मात दी. पहले ये दोनों नेता गुजरात से राज्यसभा सांसद थे.

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा था गांधीनगर और अमेठी लोकसभा चुनाव के परिणाम की घोषणा 23 और 24 मई को किए जाने का हवाला देते हुए कहा, आप इस तरह तकनीकी कौशल का इस्तेमाल नहीं कर सकते कि कुछ आंकड़ों का पता 23 मई को चले और कुल 24 मई को. इसलिए आशंका है कि राज्यसभा चुनाव आप अलग-अलग कराएंगे.

उन्होंने कहा, कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से गुजारिश की है कि अगर दो सीटों के लिए चुनाव अलग-अलग तारीख को आयोजित हुए तो यह गैरकानूनी और असंवैधानिक होगा. यह विधायकों का जनादेश होता है. सिंघवी ने कहा कि यह पूरी तरह आचार के खिलाफ होगा. राज्यसभा की दो सीटों के लिए एक साथ चुनाव पहले हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और अन्य राज्यों में हो चुका है. जब भी दो सीट खाली होती हैं तो चुनाव साथ ही होता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें