scorecardresearch
 

आरक्षण की मांग को लेकर अहमदाबाद में पटेलों की महाक्रांति शुरू, सुरक्षा में 20 हजार पुलिस बल

आरक्षण की मांग को लेकर पटेल समुदाय की मंगलवार को अहमदाबाद में महाक्रांति रैली शुरू हो गई. इसमें करीब साढ़े तीन लाख लोग पहुंच चुके हैं. समुदाय के नेता हार्दिक पटेल का दावा है कि रैली में 25 लाख से अधि‍क लोग हिस्सा लेंगे.

X
हार्दिक पटेल की फाइल फोटो
हार्दिक पटेल की फाइल फोटो

आरक्षण की मांग को लेकर पटेल समुदाय की मंगलवार को अहमदाबाद में महाक्रांति रैली शुरू हो गई. इसमें करीब साढ़े तीन लाख लोग पहुंच चुके हैं. समुदाय के नेता हार्दिक पटेल का दावा है कि रैली में 25 लाख से अधि‍क लोग हिस्सा लेंगे. रैली के मद्देनजर गुजरात पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इतंजाम किए हैं. रैली स्थल से कलेक्टर हाउस तक 20 हजार पुलिस बल को तैनात किया गया है. पटेल ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि हम अपना हक मांग रहे हैं, कोई भीख नहींं मांग रहें.

अहमदाबाद के जीएमडीसी मैदान पर जहां एक ओर रैली के लिए मंच सजकर तैयार हो चुका है, वहीं आयोजकों ने राज्य के हर इलाके से आने वाले लोगों के लिए अलग-अलग सेंटर बनाए हैं. इन सेंटरों में लोगों के खाने-पीने से लेकर रहने के भी इंतजाम किए गए हैं. इन सेंटरों में शुद्ध देसी घी की मिठाई बनाई जा रही है तो सरदार पटेल के खास मास्क भी बनाए गए हैं. हार्दिक ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांग नहीं मानी जाती है तो आंदोलन हिंसा के मार्ग पर आगे बढ़ेगा.

सुरक्षा में तैनात अधिकारियों की फौज
रैली के मद्देनजर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए है. किसी भी स्थि‍ति से निपटने के लिए 20 हजार से अधि‍क पुलिस बल को तैनात किया गया है. इसके अलावा 20 एसपी, 62 डिप्टी एसपी, 244 इंसपेक्टर, 504 पुलिस सब इंसपेक्टर की भी तैनाती की गई है.

जानकारी के मुताबिक, 13000 पुलिसकर्मी, 817 महिला पुलिसकर्मी, स्टेट रिजर्व पुलिस की 28 कंपनियां, 1 घोड़ा पुलिस की यूनिट, 150 चेतन कमांडो और 4 आरएएफ की कंपनी रैली स्थल की सुरक्षा में तैनात रहेगी.

सीसीटीवी और वीडियोग्राफी
अहमदाबाद के पुलिस कमिश्नर शि‍वानंद झा बताते हैं कि जीएमडीसी मैदान और रैली के रूट से कलेक्टर ऑफिस तक सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. सीसीटीवी के साथ ही पुलिस पूरी रैली की विडियोग्राफी भी करवाएगी. महासभा खत्म करने के बाद लोग रैली के तौर पर कलेक्टर ऑफिस तक जाएंगे. पुलिस ने जीएमडीसी मैदान के आसपास के रास्ते को नो-व्हेकिल जोन घोषि‍त कर दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें