scorecardresearch
 

सूरत में भारी बारिश से बाढ़ के हालात, गृह मंत्री अमित शाह ने CM से की बात

गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री विजय रुपाणी से फोन पर बात कर हालात की जानकारी ली है और केंद्र की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया है.

राहत कार्य में जुटी हैं एनडीआरएफ की 5 टीमें (PTI फोटो) राहत कार्य में जुटी हैं एनडीआरएफ की 5 टीमें (PTI फोटो)

  • ताजा हो गए 2006 की बाढ़ के जख्म, प्रशासन अलर्ट
  • डैम से भी छोड़ा जा रहा एक लाख क्यूसेक पानी

गुजरात के कई इलाकों में आसमान से बारिश की बूंदे कहर बरपा रही हैं. पिछले 48 घंटे से हो रही मूसलाधार बारिश के कारण सूरत के खाड़ी किनारे के इलाक़े लिम्बायत, बमरोली, सरथाणा, परवत पाटीया में बाढ़ के हालात हैं. कई स्थानों पर तीन से चार फीट तक पानी जमा हो गया है. प्रशासन अलर्ट पर है. गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री विजय रुपाणी से फोन पर बात कर हालात की जानकारी ली है और केंद्र की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया है.

सूरत कई इलाकों से लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है. उकाई और आंबली बांध में जल स्तर बढ़ने के बाद आसपास के गांवों को भी खाली कराया जा रहा है. शहर की गलियों में भी पानी घुस गया है. भारी बारिश के साथ ही तापी नदी में पानी बढ़ने की वजह से बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं. कई इलाकों में पानी कमर से ऊपर तक आ चुका है. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की पांच टीमें और फायर डिपार्टमेंट की टीम रेस्क्यू में जुटी है.

surat_1_081420114935.jpgगलियों में भी घुसा पानी

सूरत में साल 2006 की बाढ़ के जख्म ताजा हो गए हैं. बताया जा रहा है कि शहर की पांच खाड़ियों में से चार खाड़ी ओवरफ्लो हो गई हैं. शहर के बीचो बीच से गुजरने वाली तापी नदी पर बने उकाई बांध से एक लाख क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है. इसके कारण तापी नदी भी उफान पर है और समुद्र के पास की खाड़ी से भी पानी शहर के अंदर आ रहा हैं.

जयपुर: बारिश के पानी का तेज बहाव, बोलेरो पलटने से तीन लोगों की मौत

मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने सूरत के जिलाधिकारी और म्युनिसिपल कमिश्नर के साथ बात कर हालात की जानकारी ली और प्रशासन को अलर्ट रहने के निर्देश दिए. गृह मंत्री अमित शाह ने भी मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और प्रदेश के मुख्य सचिव से फोन पर बात कर हालात की जानकारी ली है.

गृह मंत्री ने ट्वीट कर बताया है कि गुजरात में एनडीआरएफ की 14 टीमों को अलर्ट पर रखा गया है. जरूरत पड़ी तो और टीमें भी गुजरात भेजी जाएंगी. बता दें कि मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें