scorecardresearch
 

गुजरात: लड़कियों के कपड़े उतरवाने के मामले में प्रिंसिपल, हॉस्टल वार्डन समेत 4 पर FIR

इस मामले पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी संज्ञान लिया है. NCWने इसे परेशान करने वाली घटना बताया है. इसके लिए जांच समिति गठित की है जो हॉस्टल का दौरा करेगी.

प्रिंसिपल, हॉस्टल वार्डन, 2 महिला असिस्टेंट के खिलाफ एफआईआर (कॉलेज की तस्वीर-ANI) प्रिंसिपल, हॉस्टल वार्डन, 2 महिला असिस्टेंट के खिलाफ एफआईआर (कॉलेज की तस्वीर-ANI)

  • राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी लिया मामले का संज्ञान
  • जांच कमेटी गठित, कॉलेज का दौरा करेगी कमेटी

गुजरात में लड़कियों के कपड़े उतरवाए जाने के मामले पर बवाल मचा हुआ है. इस पर कार्रवाई करते हुए 4 लोगों पर एफआईआर दर्ज हो चुकी है. भुज में हुई इस घटना को लेकर कॉलेज के प्रिंसिपल, हॉस्टल वार्डन के अलावा हॉस्टल की 2 महिला असिस्टेंट के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.

बता दें, गुजरात के भुज जिले में श्री सहजानंद गर्ल्स इंस्टीट्यूट में यह सनसनीखेज घटना सामने आई है. यह खबर एक स्थानीय मीडिया संस्थान में प्रकाशित होने के बाद सामने आई. इस मीडिया संस्थान की रिपोर्ट के अनुसार लड़कियों को कॉलेज में पीरियड्स के दौरान किसी भी अन्य छात्र या छात्रा से हाथ मिलाने या गले मिलने की भी अनुमति नहीं है.

ये भी पढ़ें: CAA: अनुराग कश्यप बोले- पहले लगा था मर गए, जामिया आकर लगा हम जिंदा हैं

लड़कियों के कपड़े उतरवाए जाने के मामले पर राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने संज्ञान लिया है. NCW ने इसे परेशान करने वाली घटना बताया है. इसके लिए जांच समिति गठित की है जो हॉस्टल का दौरा करेगी. साथ ही लड़कियों को ऐसी घटनाओं पर आगे आने और बोलने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा.

रिपोर्ट के मुताबिक, कॉलेज के प्रिंसिपल ने 68 लड़कियों के कपड़े उतरवा कर इस बात की जांच कराई कि वे मासिक धर्म (पीरियड्स) से गुजर रही हैं या नहीं. साथ ही यह आदेश भी जारी किया गया है कि पास स्थित मंदिर में पीरियड्स से गुजर रही लड़कियां न जाएं.

ये भी पढ़ें: रेलवे स्टेशनों के बोर्ड पर पहले उर्दू हटाकर संस्कृत में लिखे नाम, अब फैसला वापस!

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें