scorecardresearch
 

कोरोना: टीके के लिए रजिस्ट्रेशन पर केंद्र सरकार से अलग गुजरात की गाइडलाइन

केंद्र ने नियम बनाया है कि अब कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए किसी भी तरह के पूर्व रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं है, अब जरूरतमंद वैक्सीन केंद्र पर सीधे जाकर, वहां रजिस्ट्रेशन करवाकर कोरोना वैक्सीन लगवा सकते हैं. लेकिन गुजरात राज्य ने स्पष्ट किया है कि गुजरात राज्य के नियमों में कोई बदलाव नहीं किया गया है. गुजरात में वैक्सीन लगवाने के लिए अब भी आपको रजिस्ट्रेशन करवाना होगा, उसके बाद ही वैक्सीन लगवा सकेंगे.

गुजरात के दस शहरों में 18+ को लगाई जा रही है कोरोना वैक्सीन गुजरात के दस शहरों में 18+ को लगाई जा रही है कोरोना वैक्सीन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • केंद्र ने वैक्सीनेशन तेज करने के लिए बनाया है नियम
  • वैक्सीन के लिए पहले रजिस्ट्रेशन जरूरी नहीं
  • गुजरात राज्य ने किया स्पष्ट- नियमों में कोई बदलाव नहीं

कोरोना महामारी के बीच नियमों में भी लगातार बदलाव देखा जा रहा है. आमतौर पर केंद्र सरकार और गैर-बीजेपी शासित राज्यों के बीच नियमों को लेकर कुछ मतभेद देखने को मिल जाते हैं लेकिन इस बार केंद्र के नियम के समानांतर गुजरात राज्य के नियमों में अंतर देखने को मिल रहा है. अभी सोमवार को ही केंद्र सरकार ने वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को बढ़ावा देने के लिए एक नया नियम बनाया है.

केंद्र ने नियम बनाया है कि अब कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए किसी भी तरह के पूर्व रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं है, अब जरूरतमंद वैक्सीन केंद्र पर सीधे जाकर, वहां रजिस्ट्रेशन करवाकर कोरोना वैक्सीन लगवा सकते हैं. लेकिन गुजरात राज्य ने स्पष्ट किया है कि गुजरात राज्य के नियमों में कोई बदलाव नहीं किया गया है. गुजरात में वैक्सीन लगवाने के लिए अब भी आपको रजिस्ट्रेशन करवाना होगा, उसके बाद ही वैक्सीन लगवा सकेंगे.

छुआछूत से नहीं फैलता ब्लैक फंगस, अलग रंगों से नई पहचान देना गलत: एम्स डायरेक्टर डॉ गुलेरिया

केंद्र की घोषणा को चार घंटे भी नहीं हुए कि गुजरात की आरोग्य सचिव डॉ. जंयति रवि ने वैक्सीनेशन को लेकर स्पष्ट करते हुए कहा है कि गुजरात में 18 से 44 की उम्र के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है, ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन कराने वाली बात गुजरात के लिए सत्य नहीं हैं. साथ ही अभी जो वैक्सीन की प्रकिया चल रही है जैसे कि रजिस्ट्रेशन करवाना, उसके बाद तारीख और स्थल का चुनाव किया जाना, यही प्रक्रिया आगे भी जारी रहेगी.

गुजरात की आरोग्य सचिव डॉ. जंयति रवि ने स्पष्ट किया है कि गुजरात में आगे भी सरकार द्वारा निर्धारित एप और वेबसाइट के माध्यम से ही रजिस्ट्रेशन होगा न कि ऑन द स्पॉट. आपको बता दें कि गुजरात में फिलहाल 10 शहरों में 18 से 44 साल के उम्र के लोगों के लिए वैक्सीनेशन ड्राइव चलाया जा रहा है. जिसमें कोरोना वॉरियर्स और 45 से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए भी वैक्सीनेशन ड्राइव चल रहा है. 18 से 44 साल के उम्र के लोगों के लिए हर रोज 30 हजार वैक्सीन डोज दिए जा रहे थे जिसे बढ़ाकर अब 1 लाख डोज किया जा रहा है. गुजरात में अब तक 1 करोड़, 53 लाख, 83 हजार, 860 लोगों को वैक्सीन के डोज मिल चुके हैं. इनमें अधिकतर पहली डोज वाले लोग हैं.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें