scorecardresearch
 

गुजरात के रण में उतरे मोदी, भुज की रैली में कहा- इस बार लड़ाई 'विकास बनाम वंशवाद' की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार से मिशन मोड में चुनाव प्रचार की शुरुआत की. सोमवार सुबह उन्होंने आशापुरा मंदिर में माथा टेका, यहां उन्होंने कई लोगों से मुलाकात की.

X
लाइव फोटो लाइव फोटो

गुजरात में चुनाव की तारीखें नजदीक हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार से मिशन मोड में चुनाव प्रचार की शुरुआत की. सोमवार सुबह उन्होंने आशापुरा मंदिर में माथा टेका, यहां उन्होंने कई लोगों से मुलाकात की. PM ने भुज में विशाल जनसभा को संबोधित किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत गुजराती भाषा में की.

PM ने कहा कि गुजरात में 182 विधानसभा सीटों के लिए प्रचार की शुरुआत आशापुरा माता के दर्शन कर की. उन्होंने कहा कि विपक्ष ने मेरे ऊपर इतना कीचड़ उछाला, मुझे इससे दिक्कत नहीं है जितना कीचड़ उछालोगे उतना ही कमल खिल गया, किसानों की मेहनत को सलाम करता हूं. मैं गुजरात की रग-रग को जानता हूं.

मोदी बोले कि 'क' से कच्छ होता है और 'क' से कमल होता है. मोदी ने कहा कि गुजरात कांग्रेस को कभी माफ नहीं करेगा. कांग्रेस ने कभी को गुजरात को ध्यान में नहीं रखा, ये सरदार पटेल के जमाने से हो रहा है.  

मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने महा गुजरात आंदोलन के दौरान कई युवाओं को मार दिया. 2001 में जब कच्छ में भूकंप आया तो हमारी सरकार ने यहां पर काफी तेजी से काम किया. कांग्रेस ने हमेशा ही गुजरात को बैर की नजर से देखा है. पीएम बोले कि मेरी ट्रेनिंग कच्छ में हुई थी, कच्छ के लोगों ने ही मुझे सिखाया है. नेहरू के कार्यकाल में जब भूकंप को लेकर कोई काम नहीं हुआ था.

पीएम मोदी ने कहा कि गुजरात ने मुझे बड़ा किया है, गुजरात मेरी मां है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस को समझना चाहिए कि गुजराती कभी अपमान सहन नहीं करेगा. मेरे ऊपर कभी कोई दाग नहीं था, लेकिन कांग्रेस गुजरात में आकर मेरे ऊपर आरोप लगा रही है, मुझे भला-बुरा कह रही है. गुजरात की जनता कभी कांग्रेस को माफ नहीं करेगी. गुजरात के बेटे पर हमला यहां के लोग माफ नहीं करेंगे.

पीएम ने कहा कि कच्छ का रणोत्सव आज दुनिया में मशहूर है. उन्होंने कहा कि विकास हमारा मंत्र है, विकास का मजाक उड़ाने वालों को जनता माफ नहीं करेगी. उन्होंने बताया कि कच्छ में एक तरफ रेगिस्तान है तो दूसरी तरफ पाकिस्तान, किसी ने सोचा नहीं था कि यहां पर खेती भी हो सकती है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास ना नीति है, ना नीयत है, ना नेता है और ना ही जमीन से कोई नाता है. कांग्रेस के नेताओं को अपने अध्यक्ष का नाम पता भी होता, ये देश का विकास का कैसे करेंगे.

मोदी ने कहा कि जब डोकलाम में भारतीय सैनिक चीन की सेना से आंख में आंख मिलाकर बात कर रहे थे, तब कांग्रेस के नेता चीन के राजदूत से गले मिल रहे थे. 26/11 में भी हमला हुआ था, और उरी में भी आतंकी हमला हुआ था. हमने उरी का बदला घर में घुस कर आतंकियों को मारा था. सरकार में फर्क होता है, नेता में फर्क होता है.

मोदी बोले कि इनको चीन के राजदूत से मिलने पर मजा आता है, हाफिज सईद के छूटने पर इन्हें मजा आता है. सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में पूछ रहे थे कि कोई फोटो-वीडियो दिखाइए, सेना क्या वहां पर वीडियो बनाने गई थी.

पीएम ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने नोटबंदी का एक साल पूरा होने पर विरोध किया, मैं गुजरात का बेटा हूं जो देश का लूटेगा उसे बिल्कुल नहीं छोड़ूंगा. जीएसटी की बैठक में कांग्रेस ने साथ दिया, लेकिन बाहर आकर विरोध का नाटक कर रही है.

बता दें कि गुजरात में पहले से ही भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह समेत कई बड़े नेताओं और दर्जनों केंद्रीय मंत्रियों ने मोर्चा संभाल रखा है. रविवार को पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया था, इस दौरान गुजरात बीजेपी कार्यकर्ताओं ने 'मन की बात, चाय के साथ' कार्यक्रम चलाया था. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी इस कार्यक्रम के तहत गुजरात में रहकर ही स्थानीय लोगों के साथ मन की बात को सुना था. 

सूरत कपड़ा मार्केट: ‘मोदी जी को सुनना अच्छा लगता है लेकिन मालूम है जो सुन रहे हैं वो भ्रम है’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें