scorecardresearch
 

गुजरात में जमीन मजबूत करने की तैयारी! आज अहमदाबाद जाएंगे सीएम अरविंद केजरीवाल

अब अभी के लिए कहा जा रहा है कि इस दौरे के जरिए केजरीवाल गुजरात में जा चुनावी मंथन करने जा रहे हैं. वे अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से तो मुलाकात करेंगे ही, इसके अलावा कई दूसरे नेताओं को भी आप की सदस्यता दिलवाएंगे.

गुजरात दौरे पर जाएंगे अरविंद केजरीवाल गुजरात दौरे पर जाएंगे अरविंद केजरीवाल
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गुजरात का दौरा करेंगे केजरीवाल
  • पार्टी को मजबूत करने की कोशिश
  • चुनाव से पहले रणनीति पर होगा मंथन

दिल्ली की सियासत में कुछ ही सालों में अपना कद बढ़ाने वाली आम आदमी पार्टी अब गुजरात में भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवाना चाहती है. कोशिश तो पहले भी हुई, लेकिन वो सफलता हाथ नहीं लगी. अब फिर गुजरात चुनाव करीब है और आम आदमी पार्टी अपनी किस्मत आजमाने को तैयार है. इसी कड़ी में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सोमवार को गुजरात दौरे पर निकल रहे हैं.

अब अभी के लिए कहा जा रहा है कि इस दौरे के जरिए केजरीवाल गुजरात में जा चुनावी मंथन करने जा रहे हैं. वे अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से तो मुलाकात करेंगे ही, इसके अलावा कई दूसरे नेताओं को भी आप की सदस्यता दिलवाएंगे. वो कौन 'बड़े नेता' हैं, ये जानकारी सामने नहीं आई है.

कहा ये भी गया है कि केजरीवाल अहमदाबाद में बनने वाले उनके प्रदेश कार्यालय का उद्घाटन करेंगे. वे सुबह साढ़े दस बजे गुजरात पहुंच जाएंगे और उसके बाद सबसे पहले अपने प्रदेश  कार्यालय का ही उद्घाटन करेंगे. इसके बाद दोपहर में वे एक प्रेस वार्ता भी करने जा रहे हैं जहां वे चुनावी रणनीति को लेकर जरूर जानकारी दे सकते हैं.

क्लिक करें- अरविंद केजरीवाल ने गुजरात में मांगा मौका तो BJP ने ऐसे कसा तंज 

गुजरात में केजरीवाल को क्या दिख रहा है?

वैसे गुजरात की राजनीति को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल की दिलचस्पी कोई नई बात नहीं है. वे लंबे समय से गुजरात की राजनीति में अपनी धमक दिखाना चाहते हैं, लेकिन क्योंकि यहां मुकाबला हमेशा से बीजेपी और कांग्रेस के बीच रहा है, ऐसे में आम आदमी पार्टी के लिए अपनी जगह बनाना मुश्किल रहता है. लेकिन अब आम आदमी पार्टी फिर गुजरात में खुद को सक्रिय करने की कोशिश कर रही है.

इसकी वजह है हाल ही में हुए नगर निगम चुनाव जहां पर केजरीवाल की पार्टी ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई. वहीं उसी चुनाव में कांग्रेस के लचर प्रदर्शन ने भी आप के लिए अवसर के दरवाजे खोल लिए. आम आदमी पार्टी पूरी कोशिश कर रही है कि अब आने वाले विधानसभा चुनाव को भी बीजेपी बनाम आप कर दिया जाए. 

 

कैसे बदल गए चुनावी समीकरण?

जानकारी के लिए बता दें कि सूरत निकाय चुनाव में 27 सीटों पर जीत के साथ आप मुख्य विपक्षी पार्टी बनी थी. वहीं बीजेपी ने 120 में से 93 सीट अपने नाम की थी. उस चुनाव में कांग्रेस को सबसे बड़ा झटका लगा था क्योंकि उसे सिर्फ बीजेपी ने नहीं बल्कि आम आदमी पार्टी ने भी हरा दिया था. अब केजरीवाल भी गुजरात दौरे पर आ अपनी पार्टी के लिए एक मजबूत चुनावी रणनीति का खाका तैयार करने जा रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें