scorecardresearch
 

संसद में प्रदूषण पर चढ़ा पारा, दोनों सदनों में जमकर हुआ हंगामा

संसद के शीतकालीन सत्र का आज चौथा दिन था. बुधवार को लोकसभा और राज्य सभा दोनों सदनों में दिल्ली के वायु प्रदूषण पर महत्वपूर्ण चर्चा हुई. केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी इस बहस में हिस्सा लिया.

राज्य सभा की कार्यवाही (फोटो साभार: राज्यसभा टीवी) राज्य सभा की कार्यवाही (फोटो साभार: राज्यसभा टीवी)

  • विजय गोयल ने राज्य सभा में लहराए मास्क और पोस्टर
  • गोयल की इस हरकत से राज्य सभा में हुआ हंगामा
  • लोकसभा में कांग्रेस ने इलेक्टोरल बॉन्ड को लेकर हंगामा

संसद के शीतकालीन सत्र का आज चौथा दिन था. बुधवार को लोकसभा और राज्य सभा दोनों सदनों में दिल्ली के वायु प्रदूषण पर महत्वपूर्ण चर्चा हुई. केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी इस बहस में हिस्सा लिया और इस पर तेजी से काम करने की बात दोहराई. राज्यसभा में सरोगेसी बिल पर आगे चर्चा के बाद उसे सेलेक्ट कमेटी के पास भेज दिया गया. इसके साथ ही ट्रांसजेंडर पर्सन्स बिल पर भी चर्चा जारी रही.

राज्यसभा में हुआ भारी हंगामा

राज्य सभा में प्रदूषण को लेकर होकर रही बहस में विजय गोयल ने दिल्ली सरकार पर निशाना साधा. इस दौरान विजय गोयल अपने हाथों में मास्क, बोतल का पानी, पोस्टर और अखबार की कटिंग दिखाते रहे. जिस वजह से सदन में लोगों ने उनका विरोध किया. आप नेता संजय सिंह ने मुखर विरोध किया. उसके बाद सदन में हंगामा शुरू हो गया. दोनों तरफ से आरोप-प्रत्यारोप लगने लगे. उपसभापति दोनों पक्षों को समझाते रहे लेकिन विजय गोयल लगातार बोलते रहे और दूसरे सांसद उनका विरोध करते रहे.

आपस में भिड़े कांग्रेस-बीजेपी सांसद

राज्यसभा में पर्यावरण और प्रदूषण जैसे महत्वपूर्ण विषय पर चर्चा के दौरान सदन के सदस्यों के बीच तीखी बहस हो गई. चर्चा के दौरान कर्नाटक से कांग्रेस सांसद सैयद नासिर हुसैन ने जब विजय गोयल के बयान पर पीछे से बोल रहे नीरज शेखर को रोकना चाहा. इस पर दोनों नेताओं की आपस में तू-तू मैं-मैं हो गई.

कांग्रेस के सांसद सैयद नासिर हुसैन ने नीरज शेखर से भड़कते हुए कहा कि अभी तुम कुछ दिन पहले समाजवादी पार्टी की तरफ बैठकर चिल्ला रहे थे, और अब बीजेपी में चिल्ला रहे हो इस पर नीरज शेखर भड़क उठे. उन्होंने सदन में कांग्रेस के सांसद सैयद नासिर हुसैन को चिल्लाते हुए कहा कि बैठ जा.. बैठ जा.

लोकसभा में हुआ हंगामा

लोकसभा में भी विपक्ष खासकर कांग्रेस ने जमकर हंगामा किया. प्रश्नकाल के शुरुआत से ही कांग्रेस सांसद सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहे. लोकसभा अध्यक्ष ने उन लोगों को कई बार समझाने की कोशिश की. जब वे लोग वेल में आकर हंगामा करने लगे तो लोकसभा अध्यक्ष ने उन्हें समझाया कि सदन की मर्यादा बनाए रखना हम सबकी जिम्मेदारी है.

लोकसभा में शून्यकाल की शुरुआत भी हंगामेदार रही. शून्यकाल की शुरुआत में कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने इलेक्टोरल बॉन्ड का मुद्दा उठाया और इसके साथ ही सरकार को घेरने की कोशिश की. मनीष तिवारी ने सरकार पर गंभीर आरोप लगाए. लोकसभा अध्यक्ष के टोकने पर कांग्रेस सांसद हंगामा करने लगे. जिसके बाद लोकसभा अध्यक्ष ने उनसे पेपर टेबल पर रखने की बात कही. इसके बाद कांग्रेस के सदस्य सदन से वॉक आउट कर गए.

हेमा मालिनी बोलीं- मथुरा में बंदर सफारी बने

हेमा मालिनी ने मथुरा में बंदरों की समस्या उठाई. उन्होंने कहा कि मेरे इलाके में लोग बंदरों के आतंक से त्रस्त हैं. पहले वहां जंगल हुआ करते थे अब पेड़ भी गिने-चुने हैं. इस वजह से भूखे बंदर लोगों के घरों में खाने की तलाश में घुस रहे हैं. डॉक्टरों ने बंदरों की जनसंख्या नियंत्रित करने की कोशिश भी की लेकिन उससे वे और हिंसक हो गए. मैं विनती करती हूं कि वन विभाग वहां बंदर सफारी बनाकर बंदरों की सुरक्षा सुनिश्चित करे.

राज्यसभा और लोकसभा में हुई वायु प्रदूषण पर चर्चा

राज्यसभा और लोकसभा दोनों सदनों में वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तरों के कारण होने वाली स्थिति पर ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर चर्चा हुई. इस अहम मुद्दे पर चर्चा के दौरान सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच काफी तीखी बहस भी हुई. राज्यसभा में कई सांसदों ने इस मुद्दे पर अपनी राय रखी और अच्छे-अच्छे सुझाव दिए. किसी सांसद ने पराली को मनरेगा से जोड़ने की मांग की तो किसी ने साफ हवा और स्वच्छ जल को मौलिक अधिकार में जोड़ने की बात भी सदन के सामने रखी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें