scorecardresearch
 

सीलिंग के विरोध में व्यापारियों ने फिर किया दिल्ली बंद का ऐलान

सीलिंग को लेकर व्यापारियों ने गुरुवार को बैठक बुलाई थी जिसमें 100 से ज्यादा दिल्ली के व्यापारी संगठन शामिल हुए. बैठक में तय किया गया कि अगर व्यापारियों को सीलिंग से राहत नहीं मिलती तो अब आंदोलन तेज होगा.

दिल्ली में सीलिंग के खिलाफ प्रदर्शन दिल्ली में सीलिंग के खिलाफ प्रदर्शन

सीलिंग को लेकर एक बार फिर व्यापारियों ने 13 मार्च को दिल्ली बंद का ऐलान कर दिया है. सीलिंग को लेकर व्यापारियों ने गुरुवार को बैठक बुलाई थी जिसमें 100 से ज्यादा दिल्ली के व्यापारी संगठन शामिल हुए.

बैठक में तय किया गया कि अगर व्यापारियों को सीलिंग से राहत नहीं मिलती तो अब आंदोलन तेज होगा. जिसकी शुरुआत 13 मार्च दिल्ली बंद से की जाएगी.

व्यापारियों की मांग है कि सीलिंग से राहत दिलाने के लिए केंद्र सरकार संसद में बिल दे. तो वहीं दिल्ली सरकार भी विधानसभा का सत्र बुलाए और बिल केंद्र सरकार को भेजे.

गौरतलब है कि इससे पहले डीडीए दिल्ली मास्टर प्लान 2021 में कई संशोधन किए थे. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने साफ कर दिया कि जब तक पर्यावरण से लेकर पार्किंग की समस्या का निदान नहीं होता तो इस तरह के संशोधन नहीं किए जा सकते. सुप्रीम कोर्ट ने मास्टर प्लान में संशोधन के लिए जो दिशा निर्देश दिए हैं उसका पालन करना आसान नहीं है.

वहीं बीजेपी विधायक और डीडीए सदस्य ओपी शर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार इसको लेकर बिल लाएगी. जिसको लेकर मसौदा तैयार किया जा रहा है. सरकार इस मसौदे को कोर्ट के सामने रखेगी, जिसके बाद कोर्ट ये तय करेगा कि दिल्ली में सीलिंग रुकेगी या और तेज़ होगी. फिलहाल सुप्रीम कोर्ट द्वारा बनाए गए मॉनिटरिंग कमेटी ने सीलिंग की कार्रवाई तेज कर दी है. जिसको लेकर व्यापारियों में जबरदस्त गुस्सा है तो वहीं राहत देना भी बड़ी चुनौती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें