scorecardresearch
 

तिहाड़ जेल में कैदी को मिला VIP ट्रीटमेंट, जेल प्रशासन पर लगे आरोप

तिहाड़ जेल के अधिकारी राकेश चौधरी पर आरोप है कि आरोपी के पिता संजय सिंघल को अपने दफ्तर में बाकायदा बैठाया, उनकी एंट्री करवाई और मुलाकात के साथ-साथ खाने-पीने का इंतजाम भी किया.

X
तिहाड़ जेल (फाइल फोटो)
तिहाड़ जेल (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • विवादों में आए तिहाड़ जेल के अधिकारी राकेश चौधरी
  • नियमों के विपरीत कैदी की कराई गई पिता से मुलाकात

तिहाड़ जेल प्रशासन पर एकबार फिर से गंभीर आरोप लगे हैं. इस बार जेल नियमों को ताक पर रखकर जेल सुप्रिंटेंडेंट के दफ्तर में एक कैदी की उसके पिता से मुलाकात करवाए जाने का आरोप लगा है. राजनीतिक हनक के चलते पिता की ओर से बेटे से मुलाकात करने के साथ ही जेल नियमों के खिलाफ उसे मनपसंद खाना खिलाए जाने का आरोप लग रहा है.

जानकारी के मुताबिक तिहाड़ की जेल नंबर 5 में रचित सिंघल नाम का एक आरोपी बंद है. ये आरोपी एक फूड डिलीवरी बॉय की मौत के मामले में तिहाड़ में बंद है. जिस जेल में ये आरोपी बंद है उसी जेल के नए नवेले जेल सुपरिंटेंडेंट के पद पर राकेश चौधरी तैनात हैं. राकेश SDM हेडक्वार्टर भी हैं. राकेश चौधरी पर आरोप है कि आरोपी के पिता संजय सिंघल को अपने दफ्तर में बाकायदा बैठाया, उनकी एंट्री करवाई और मुलाकात के साथ-साथ खाने-पीने का इंतजाम भी किया. 

बताया जाता है कि जेल नंबर 16 की एंट्री रजिस्टर में बाकायदा इसके सबूत दर्ज है. किस वक्त कैदी के पिता जेल आए और कितनी देर तक जेल सुप्रिंटेंडेंट के दफ्तर में मौजूद रहे. वहीं, तमाम सीसीटीवी भी इसकी गवाही दे रहे हैं. बता दें कि आरोपी के पिता का डेयरी का बड़ा बिजनेस है और वो एक राजनीतिक पार्टी से जुड़े बताए जाते हैं.

गौरतलब है कि आरोपी की कल ही जमानत भी कोर्ट से रद्द हुई थी जिसके बाद ये सारी कवायद जेल नियमों को ताक पर रखकर की गई है. बता दें कि राकेश चौधरी के पास तिहाड़ की जेल नंबर 3 का भी चार्ज है. जेल नियमों के मुताबिक जेल की ड्योढ़ी में जेल अधीक्षक के दफ्तर में कोई भी मुलाकात नहीं कर सकता, इसे लेकर सख्त प्रावधान हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें