scorecardresearch
 

निर्भया गैंगरेप पर SC के फैसले का महिला आयोग ने किया स्‍वागत

निर्भया गैंगरेप कांड में चार अपराधियों की याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है. कोर्ट के इस फैसले का हर तबका स्वागत कर रहा है. दिल्ली महिला आयोग की मुखिया स्वाति मालीवाल ने भी कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है

X
फाइल फोटो
फाइल फोटो

निर्भया गैंगरेप कांड में चार अपराधियों की याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है. कोर्ट के इस फैसले का हर तबका स्वागत कर रहा है. दिल्ली महिला आयोग की मुखिया स्वाति मालीवाल ने भी कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है.

इसके साथ ही उन्‍होंने बताया कि मंगलवार को दिल्ली महिला आयोग दिल्ली पुलिस को और तिहाड़ जेल प्रशासन को इस मामले में नोटिस जारी करेगा.

स्‍वाति ने कहा कि वह दिल्ली पुलिस और तिहाड़ जेल प्रशासन को नोटिस भेजकर उनसे यह पूछेंगे कि निर्भया के सभी अपराधियों की फांसी को कब अमल में लाया जाएगा. हालांकि दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख का मानना है कि फैसला आने में बेहद देरी हुई क्योंकि इसमें लगभग 6 साल का वक्त लग गया.

स्वाति मालीवाल ने आजतक से बातचीत में कहा कि महिलाओं के खिलाफ ऐसे जघन्य अपराधों से निपटने के लिए पुलिस के संख्या बल को बढ़ाए जाने की जरूरत है. वहीं मालीवाल ने दिल्ली सरकार को भी जल्दी से जल्दी और ज्यादा से ज्यादा तादाद में सीसीटीवी कैमरे लगाने को कहा है.

दिल्ली महिला आयोग ने प्रधानमंत्री से भी गुजारिश की है कि वह महिलाओं की सुरक्षा को लेकर ठोस कदम उठाएं जिससे अपराधियों में कड़ा संदेश पहुंचे. मालीवाल ने महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराधों की सुनवाई के लिए ज्यादा से ज्यादा तादाद में फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने की गुहार लगाई है.

बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी निर्भया के अपराधियों पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए कहा है कि इससे समाज में अपराधियों के खिलाफ एक कड़ा संदेश जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें