scorecardresearch
 

स्वच्छ शौचालय अभियान के दौरान सुरेश रैना ने शेयर की अपनी बेटी से जुड़ी बात

रैना के मुताबिक जब हम अपने इर्द-गिर्द सफाई रखते हैं तो हमारे विचारों में भी सफाई रहती है. तन स्वस्थ तो मन स्वस्थ और मन स्वस्थ तो हम लोगों को अपने इर्ग-गिर्द सफाई रखने की प्रेरणा दे सकते हैं.

साउथ दिल्ली एमसीडी के स्वच्छ शौचालय अभियान को लांच करने पहुंचे सुरेश रैना साउथ दिल्ली एमसीडी के स्वच्छ शौचालय अभियान को लांच करने पहुंचे सुरेश रैना

भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना बुधवार को राजधानी में साउथ दिल्ली एमसीडी के स्वच्छ शौचालय अभियान को लांच करने पहुंचे थे. रैना इस मिशन के ब्रांड अम्बेसडर भी हैं लिहाजा दिल्ली के साकेत स्थित ज्ञान भारती स्कूल में साउथ दिल्ली एमसीडी ने स्वच्छ शौचालय अभियान के तहत एक कार्यक्रम का आयोजन किया. इस कार्यक्रम में सुरेश रैना ने स्कूली बच्चों को संबोधित करते हुए अपनी बेटी ग्रासिया का भी जिक्र कर डाला.

सुरेश रैना ने कहा कि मैं खुद भी साफ-सफाई का खास ध्यान रखता हूं. जब भी मैं ग्रासिया का डाइपर चेंज करता हूं तो उसे डस्टबिन में ही डालता हूं. रैना के मुताबिक जब हम अपने इर्द-गिर्द सफाई रखते हैं तो हमारे विचारों में भी सफाई रहती है. तन स्वस्थ तो मन स्वस्थ और मन स्वस्थ तो हम लोगों को अपने इर्ग-गिर्द सफाई रखने की प्रेरणा दे सकते हैं. बतौर नागरिक हम सबकी जिम्मेदारी है कि हम स्वच्छ भारत अभियान में अपनी भूमिका अपने अपने स्तर पर निभाएं.

रैना ने कहा कि भारत में सबसे बड़ी चुनौती लोगों के आदतों में सुधार की है. विदेशों में लोग अपना छोटा बड़ा काम खुद करते हैं यहां तक ही साफ सफाई भी, इसीलिए वो इसका महत्व समझते हैं. अगर हमें बदलाव लाना है तो अपनी आदतों में सुधार करना होगा.

इस मौके पर दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी भी शामिल हुए. तिवारी ने साउथ एमसीडी को इस कार्यक्रम के लिए बधाई देते हुए ये भी कहा कि अगली बार जब स्वच्छ शहरों की रैंकिंग हो तो उसमें साउथ एमसीडी को अपनी रैंकिंग सुधारते हुए 50 के अंदर अपनी जगह बनानी है. आपको बता दें कि हाल ही में हुए स्वच्छ सर्वे में साउथ एमसीडी की रैंकिंग 202 थी, जबकि नॉर्थ और ईस्ट एमसीडी की रैंकिंग इससे भी काफी पीछे थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें