scorecardresearch
 

मेट्रो में बढ़ती भीड़ बनी DMRC के लिए सिरदर्द

मुसाफिरों की संख्या के मामले में साउथ-ईस्ट एशिया में सिर्फ हांगकांग की मेट्रो दिल्ली मेट्रो से आगे है, लेकिन मुसाफिरों की बढ़ती भीड़ अब डीएमआरसी के लिए सिरदर्द बनने लगी है.

X
दिल्‍ली मेट्रो दिल्‍ली मेट्रो

मेट्रो ने मुसाफिरों की संख्या का नया रिकॉर्ड बनाया है, तो ये दूसरे देशों की मेट्रो के राइडरशिप के रिकॉर्ड भी तोड़ रही है. मुसाफिरों की संख्या के मामले में साउथ-ईस्ट एशिया में सिर्फ हांगकांग की मेट्रो दिल्ली मेट्रो से आगे है, लेकिन मुसाफिरों की बढ़ती भीड़ अब डीएमआरसी के लिए सिरदर्द बनने लगी है.

मेट्रो में एक दिन में सफर करने वालों का आंकड़ा 23 लाख 62 हजार की संख्या को पार कर गया है. पीक आवर में तो भीड़ को संभालना मुश्किल साबित हो रहा है.

मेट्रो में जो राइडरशिप 2021 के लिए आंकी गई थी, उतने लोग 2013 में ही सफर करने लगे हैं, अब ये भले ही मेट्रो की लोकप्रियता का पैमाना माना जाए, लेकिन हकीकत ये है कि मेट्रो के सामने एक बड़ी चुनौती आने वाली है, क्योंकि बढ़ती भीड़ से अभी से ही डीएमआरसी का दम फूलने लगा है.

मेट्रो के पास कोच की कमी है और आठ कोच की मेट्रो चलाने का वादा भी लड़खड़ाती चाल से पूरा हो रहा है, ऐसे में भीड़ मेट्रो का सिरदर्द बढा़ने वाली है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें