scorecardresearch
 

दिल्ली: प्रीमियम बस योजना घोटाले के आरोप में गोपाल राय से छीना जा सकता है परिवहन मंत्रालय

मंत्री गोपाल राय ने इस खबर की पुष्टि की है. हालांकि, उनका कहना है कि स्वास्थ्य कारणों से उन्होंने खुद ही परिवहन मंत्रालय छोड़ने की पेशकश की है.

X
गोपाल राय
गोपाल राय

दिल्ली की अर‍विंद केजरीवाल सरकार जल्द ही अपने मंत्रीमंडल में बड़े स्तर पर फेरबदल की तैयारी कर रही है. दिलचस्प बात यह है कि ऑड-इवन की सफलता पर परिवहन मंत्री की पीठ थपथपा चुकी सरकार अब प्रीमियम बस योजना में घोटाले के कारण मंत्री गोपाल राय से यह मंत्रालय वापस ले सकती है.

राय बोले- स्वास्थ्य कारणों से खुद की पेशकश
सूत्रों के मुताबिक, कपिल मिश्रा को अब परिवहन विभाग दिया जा सकता है. हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि गोपाल राय ने खुद ही स्वास्थ्य कारणों से परिवहन मंत्रालय छोड़ने की पेशकश मुख्यमंत्री केजरीवाल से की थी. राय के पास श्रम मंत्रालय भी है, जबकि परिवहन मंत्रालय का काम ज्यादा रहता है. हाल ही राय की सर्जरी भी हुई थी, जिसमें वर्षों से उनके शरीर में फंसी एक बुलेट को निकाला गया था.

सतेंद्र जैन के नाम पर भी लग सकती है मुहर
गोपाल राय के पास परिवहन, श्रम के अलावा रोजगार, विकास, सामान्य प्रशासन विभाग, सिंचाई एवं खाद्य नियंत्रण विभाग भी हैं. फेरबदल होने की स्थि‍ति में नए परिवहन मंत्री के तौर पर सतेंद्र जैन का नाम भी सामने आया है. कपिल मिश्रा इस समय पर्यटन और जल संसाधन मंत्री हैं. जबकि सत्येंद्र जैन के पास स्वास्थ्य विभाग, पीडब्ल्यूडी, बिजली विभाग हैं.

मंत्री गोपाल राय ने मंत्रालय से हटने की खबर की पुष्टि की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें