scorecardresearch
 

बाढ़ से डरने की जरूरत नहीं, जल संचयन का भी फायदा: मनोज तिवारी

मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में जलस्तर बहुत तेजी से घट रहा है लोगों को पानी नहीं मिलता है, लेकिन अब हो सकता है यमुना के पास के इलाकों में जल स्तर बढ़े और हैंडपंप के जरिए पानी लोगों को मिलने लग जाए.

मनोज तिवारी (फोटो-मणिदीप शर्मा) मनोज तिवारी (फोटो-मणिदीप शर्मा)

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया. दरअसल जिन इलाकों में पानी घुसा है वहां के सांसद खुद मनोज तिवारी हैं. ऐसे में बुधवार सुबह से ही मनोज तिवारी तमाम इलाकों का नाव के जरिए और कहीं पैदल दौरा करते दिखाई दिखे. मनोज तिवारी ने 'आजतक' से बातचीत में कहा कि कुछ किसानी का काम करने वाले लोगों के घर डूब गए हैं. बाढ़ ग्रस्त जनता की परेशानी को हम सभी दूर कर रहे हैं.

मनोज तिवारी ने मुख्यमंत्री केजरीवाल के दौरे पर व्यंग्य कसते हुए कहा कि कहा कि अरविंद केजरीवाल का प्लान आने का नहीं था हमने जब प्लान बना दिया तो हमसे पहले वह दौरा करके चले गए. साथ ही लोगों पर चिंता जताते हुए कहा, 'हम यह जरूर बोलेंगे कि लोगों को दिक्कत आ रही है. मनोज तिवारी ने कहा कि इस समय लोगों को सुरक्षित भेजना आवश्यक है और जो पानी आया उससे बहुत घबराने की जरूरत नहीं है.

मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में जलस्तर बहुत तेजी से घट रहा है. लोगों को पानी नहीं मिलता है, लेकिन अब हो सकता है यमुना के पास के इलाकों में जलस्तर बढ़े और हैंडपंप के जरिए पानी लोगों को मिलने लग जाए. मनोज तिवारी ने कहा, 'जैसा प्रधानमंत्री ने कहा कि बाढ़ से सिर्फ डरने की जरूरत नहीं है इसके जरिए जल का संचयन भी हो सकता है. मनोज तिवारी ने कहा कि यमुना का जलस्तर बढ़ने से गंदगी और प्लास्टिक भी उसमें मिल गई है. अब हम थोड़ा पानी उतरने पर स्वच्छता अभियान भी चलाएंगे ताकि इलाके में महामारी न फैल सके.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें