scorecardresearch
 

सरकार ने माना, महंगा पड़ा दिल्ली मेट्रो का किराया बढ़ाना

शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा है कि यात्रियों की संख्या कम होने का कारण सिर्फ किराया बढ़ाना नहीं बल्कि मौसम, छुट्टियां और त्यौहार जैसे अन्य कारण भी इसमें शामिल हैं.

दिल्ली मेट्रो दिल्ली मेट्रो

सरकार ने माना है कि दिल्ली में मेट्रो का किराया बढ़ाना महंगा पड़ा है. किराया बढ़ने के बाद मेट्रो में सवारी करने वालों की संख्या में कमी आई है. लोकसभा में एक लिखित सवाल के जवाब में शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि दिल्ली मेट्रो रेल निगम के मुताबिक किराया बढ़ने के बाद यात्रियों की संख्या कम हुई है. वडोदरा से बीजेपी के सांसद रंजन बेन भट्ट ने सवाल पूछा था कि मेट्रो का किराया बढ़ने का यात्रियों की संख्या पर क्या असर हुआ है.

संख्या में कमी का कारण सिर्फ किराया नहीं

हालांकि जवाब में हरदीप पुरी ने कहा है कि यात्रियों की संख्या कम होने का कारण सिर्फ किराया बढ़ाना नहीं बल्कि मौसम, छुट्टियां और त्यौहार जैसे अन्य कारण भी इसमें शामिल हैं. एक अन्य सवाल के जवाब में हरदीप पुरी ने कहा कि फिलहाल मेट्रो के किराए में वरिष्ठ नागरिकों, छात्रों और दिव्यांगों के लिए रियायत देने की कोई सिफारिश किराया निर्धारण समिति ने नहीं की है.

पिछले साल बढ़ाया गया था किराया

पिछले दिनों हरदीप पुरी ने कहा था कि उनकी समझ से वरिष्ठ नागरिकों और विद्यार्थियों को बढ़े हुए किराए में राहत मिलनी चाहिए. पिछले साल दिल्ली मेट्रो के किराए में दो बार बढ़ोतरी की गई थी और कुछ दूरी के बीच तक तो किराया दोगुना हो गया था.

यात्रियों की संख्या में 3 लाख की कमी

10 अक्टूबर को मेट्रो में किराए की वृद्धि को लेकर जबरदस्त विरोध हुआ था और इसके लिए केजरीवाल सरकार ने केंद्र सरकार को दोषी ठहराया था. पिछले दिनों एक आरटीआई के जवाब में दिल्ली मेट्रो ने बताया था कि किराया बढ़ने की वजह से प्रतिदिन तीन लाख तक यात्री कम हो हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें