scorecardresearch
 

'गुड़िया' के 'गुनहगार' ने किया था अपनी पत्नी से रेप!

दिल्ली के गांधी नगर रेप कांड के आरोपी मनोज का नाम पहले भी बलात्कार के मामले में आ चुका है.

दिल्ली के गांधीनगर रेप कांड के आरोपी के बारे में एक और बड़ा खुलासा हुआ है. पुलिस सूत्रों ने बताया है कि 'गुड़िया' के साथ दुष्कर्म करने के आरोपी मनोज का नाम पहले भी बलात्कार के मामले में आ चुका है.

दरअसल, मनोज ने शादी से पहले अपनी पत्नी के साथ बलात्कार किया था. हालांकि बाद में कानूनी शिकंजे से बचने के लिए उसने गांववालों के दबाव में शादी कर ली थी.

रेप के वक्त 'ब्लू फिल्म' देख रहा था 'दरिंदा'
गौरतलब है कि मनोज के बारे में इससे पहले एक और घृणित और चौंकाने वाली जानकारी सामने आई थी. पूछताछ के दौरान आरोपी मनोज कुमार ने बताया कि वह बच्ची से दुष्कर्म के दौरान अश्लील फिल्म देख रहा था.

ये बात पुलिस पूछताछ के दौरान मनोज ने खुद कबूली. मनोज के मोबाइल की जांच के बाद पता चला कि उसमें 12 अश्लील फिल्में थीं. पूछताछ में उसने पुलिस को बताया कि बच्ची के साथ दरिंदगी के दौरान वो इन फिल्मों को देख रहा था.

इसके अलावा लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में दिल्ली पुलिस ने आरोपी मनोज का मेडिकल चेकअप भी कराया. अस्पताल में रेप केस के आरोपी मनोज की शारीरिक और मानसिक जांच की गई. साथ ही टेस्ट के लिए मनोज का डीएनए सैंपल भी लिया गया है.

पुलिस के मुताबिक 'गुड़िया' का अपहरण 15 अप्रैल को किया गया और पूर्वी दिल्ली के गांधी नगर में एक मकान के तल मंजिले पर स्थित एक कमरे में दो दिनों तक बिना भोजन-पानी के बंधक बनाकर रखा गया, आरोपी उसी कमरे में रहता था. पीड़ित बच्ची का परिवार भी उसी इमारत में रहता है.

पांच साल की मासूम बच्ची के साथ कई बार दुष्कर्म किया गया. घटना का खुलासा तब हुआ, जब एक पड़ोसी ने बच्ची की चीख को सुना और फिर उसके परिवारवालों को सूचित किया. वह जिस कमरे में बंद थी उसके दरवाजे को तोड़कर बच्ची को बाहर निकाला गया.

जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही पांच साल की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म करने वाले 'दरिंदे' ने यह सोचकर अपने गृह प्रदेश बिहार भाग गया था कि बच्ची (पीड़ित) मर चुकी है. दिल्ली के पुलिस उपायुक्त प्रभाकर ने बताया था कि दिल्ली और बिहार पुलिस की एक टीम द्वारा बीते शुक्रवार को 22 वर्षीय आरोपी मनोज कुमार को मुजफ्फरपुर के भरथुवा गांव से गिरफ्तार किया गया. इसके बाद शनिवार को आरोपी मनोज का बिहार से दिल्ली लाया गया.

सड़कों पर आई जनता
इस बीच, क्रूरतापूर्ण दुष्कर्म की घटना के बाद राष्ट्रीय राजधानी में एक बार फिर प्रदर्शनों का सिलसिला शुरू हो गया. शनिवार को पुलिस मुख्यालय, एम्स, केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास समेत विभिन्न स्थानों पर आक्रोशित लोग जुटे और जोरदार प्रदर्शन किया. यह प्रदर्शन रविवार को भी जारी है.

आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय पर आम आदमी पार्टी (एएपी) के सदस्यों, भारत का छात्र फेडरेशन (एसएफआई) और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के पुलिस आयुक्त नीरज कुमार से इस्तीफे की मांग करते हुए प्रदर्शन किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें