scorecardresearch
 

दिल्ली पुलिस को आशंका- US विदेश मंत्री का घेराव कर सकते हैं किसान, एयरपोर्ट की सुरक्षा बढ़ी

पुलिस को आशंका है कि कृषि कानूनों के चलते आठ महीनों से आंदोलन कर रहे विभिन्न किसान संगठन अमेरिका से आने वाले प्रतिनिधिमंडल का घेराव कर सकते हैं. इस प्रतिनिधिमंडल में अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन (Antony Blinken) भी शामिल हैं.

अमेरिकी विदेश मंत्री और किसान आंदोलन अमेरिकी विदेश मंत्री और किसान आंदोलन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली एयरपोर्ट की सुरक्षा बढ़ाई गई
  • अमेरिकी विदेश मंत्री का है दौरा
  • 'किसान कर सकते हैं घेराव'

दिल्ली पुलिस ने इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (आईजीआई) की सुरक्षा व्यवस्था को पहले के मुकाबले और अधिक बढ़ा दिया है. पुलिस को आशंका है कि कृषि कानूनों के चलते आठ महीनों से आंदोलन कर रहे विभिन्न किसान संगठन अमेरिका से आने वाले विदेशी डेलिगेशन का घेराव कर सकते हैं.

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन का भारत का दौरा शुरू होने वाला है. ब्लिंकन 27-28 जुलाई तक भारत की यात्रा पर रहेंगे. उनके साथ अमेरिका से कई और लोग भी भारत आएंगे. उस दौरान किसान संगठन कोई अनहोनी न कर दें, इस वजह से दिल्ली पुलिस पूरी तरह से सतर्क हो गई है. पुलिस ने अभी से ही आईजीआई एयरपोर्ट की सुरक्षा को और कड़ा कर दिया है.

दिल्ली पुलिस की आईजीआई एयरपोर्ट पर पहले जितनी सुरक्षा होती थी, अब उसमें इजाफा किया गया है. पुलिस ने अलग से पुलिसकर्मियों को तैनात किया है. मालूम हो कि पिछले साल भारत में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का भी दौरा हुआ था. उसी दौरान राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में विभिन्न जगहों पर हिंसक दंगे हुए थे. इन दंगों में कई लोगों की जान चली गई थी.

पुरानी घटनाओं से सबक लेते हुए दिल्ली पुलिस कोई भी गलती नहीं दोहराना चाहती है. पुलिस की यह सुरक्षा व्यवस्था दिल्ली एयरपोर्ट पर आज से ही लागू हो गई है, जोकि 31 जुलाई तक चलेगी. वहीं, कृषि कानूनों के विरोध में किसानों ने 26 जनवरी को राजधानी में ट्रैक्टर रैली निकाली थी, जिसमें जमकर तोड़फोड़ और हिंसा हुई थी. इस रैली के बाद सरकार और किसानों के बीच बातचीत बंद हो गई. वहीं, दिल्ली पुलिस ने भी कई लोगों को हिरासत में लिया था. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें