scorecardresearch
 

दिल्ली सीलिंग: लाजपतनगर के व्यापारी मांगेंगे इच्छामृत्यु, कर्मचारियों के लिए लगाया सड़क पर लंगर

दिल्ली के बारह सौ से ज़्यादा व्यापारी संगठनों ने इसके विरोध में मंगलवार को दुकानें बंद रखकर प्रदर्शन किया. लाजपतनगर में लाखों लोग सीलिंग की वजह से बेरोजगार हो गए. लाजपतनगर के दुकानदारों के साथ उनके कर्मचारी भी प्रदर्शन करने उतरे. दुकानदारों ने कर्मचारियों के लिए सड़क पर लंगर लगाकर खाने की व्यवस्था की.

दुकानदारों ने कर्मचारियों के लिए सड़क पर लंगर लगाकर खाने की व्यवस्था की दुकानदारों ने कर्मचारियों के लिए सड़क पर लंगर लगाकर खाने की व्यवस्था की

सीलिंग से परेशान लाजपत नगर के दुकानदार कोर्ट के सामने जाकर इच्छामृत्यु मांगेंगे. पिछले सप्ताह दिल्ली में अब तक की सबसे बड़ी सीलिंग ड्राइव लाजपतनगर पार्ट फ़ोर और अमर कॉलोनी इलाक़े में हुई. यहां चार सौ से ज्यादा दुकानों को सील किया गया. यहां के एक दुकानदार संतोष ने बताया कि अगर उनकी दुकानों को डिसील नहीं किया गया तो सारे दुकानदार कोर्ट जाकर इच्छामृत्यु मांगेंगे. दुकानदारों ने कहा कि अब उनके पास कमाई का कोई साधन नहीं है और बच्चों के स्कूल की फ़ीस भी देने में दिक्कत आ रही है.

दिल्ली के बारह सौ से ज़्यादा व्यापारी संगठनों ने इसके विरोध में मंगलवार को दुकानें बंद रखकर प्रदर्शन किया. लाजपतनगर में लाखों लोग सीलिंग की वजह से बेरोजगार हो गए. लाजपतनगर के दुकानदारों के साथ उनके कर्मचारी भी प्रदर्शन करने उतरे. दुकानदारों ने कर्मचारियों के लिए सड़क पर लंगर लगाकर खाने की व्यवस्था की.

मार्केट असोसिएशन के मेंबर मनीष अग्रवाल ने कहा कि जब तक दुकानदारों के पास पैसे हैं, तभी तक वो कर्मचारियों को खाना खिला सकते हैं. दुकानें सील होने की वजह के पैसों की भारी कमी है. दुकानदार सीलिंग के ख़िलाफ़ लामबंद होकर आने वाले दिनों में भी प्रदर्शन करेंगे. दुकानदारों ने दिल्ली और केंद्र सरकार से गुज़ारिश की कि वो सीलिंग पर लगाम लगाएं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें