scorecardresearch
 

रिंकू शर्मा के परिवार से मिले कपिल मिश्रा, एक करोड़ रुपये देने का ऐलान

दिल्ली के मंगोलपुरी में रिंकू शर्मा हत्याकांड को लेकर राजनीतिक हलचल तेज हो गई है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता कपिल मिश्रा ने मंगलवार को रिंकू शर्मा के परिवार से मुलाकात की. इस दौरान बीजेपी नेता ने एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया.

रिंकू शर्मा के परिजनों से मिले बीजेपी नेता कपिल मिश्रा रिंकू शर्मा के परिजनों से मिले बीजेपी नेता कपिल मिश्रा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पीड़ित परिवार से मिले बीजेपी नेता
  • आर्थिक मदद मुहैया कराने की बात कही
  • परिवार को एक करोड़ रुपये देने का वादा

दिल्ली के मंगोलपुरी में रिंकू शर्मा हत्याकांड को लेकर राजनीतिक हलचल तेज हो गई है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता कपिल मिश्रा ने मंगलवार को रिंकू शर्मा के परिवार से मुलाकात की. इस दौरान बीजेपी नेता ने एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया. 

रिंकू शर्मा के परिवार से मुलाकात के बाद कपिल मिश्रा ने 'आजतक' को बताया कि आर्थिक सहायता के लिए रुपये कैश नहीं बल्कि डायरेक्ट बैंक एकाउंट में ट्रांसफर होंगे. परिवार के एक सदस्य के बैंक एकाउंट में एक करोड़ रुपये किस्तों में ट्रांसफर किए जाएंगे. बीजेपी नेता के मुताबिक ये रुपये जुटाने के लिए 9 हजार से ज्यादा लोगों ने देश और विदेश से आर्थिक सहायता भेजी है.

कपिल मिश्रा ने कहा, " एक करोड़ रुपये ट्रांसफर करने के लिए बैंक मैनेजर से बात की गई है. प्रक्रिया के तहत रिंकू शर्मा के परिवार के अकाउंट में पहली किस्त में 25 लाख रुपये ट्रांसफर किये जायेंगे. इसके बाद लगातार 2 दिनों तक बैंक एकाउंट में 25-25 लाख रुपये ट्रांसफर किए जाने हैं. 26 फरवरी तक 1 करोड़ रुपये बैंक अकाउंट में पूरी तरह भेज दिए जाएंगे."

प्रज्ञा ठाकुर परिजनों से मिलीं

साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर भी रिंकू शर्मा के घर पहुंचीं. उन्होंने रिंकू शर्मा के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी और परिवार को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया. रिंकू की मौत से आहत उसकी मां ने सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर से कहा कि उनके बेटे को चाकू मारने वाले फांसी की सजा मिलनी चाहिए. इस पर प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने रिंकु की मां को सांत्वना देते हुए कहा कि इस दुख की घड़ी में मैं और सरकार अपके साथ है.

दिल्ली के मंगोलपुरी में बुधवार 10 फरवरी को रिंकू शर्मा की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई थी. इस हत्याकांड में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. 12 फरवरी शुक्रवार को पुलिस ने 5वें आरोपी ताजुद्दीन को गिरफ्तार किया था. इससे पहले जाहिद, मेहताब, दानिश और इस्लाम की गिरफ्तारी हुई थी.

वहीं, इस मर्डर केस की जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने शुरू कर दी है. 13 फरवरी शनिवार को क्राइम ब्रांच FSL की टीम के साथ रिंकू शर्मा के घर पहुंची थी और मंगोलपुरी की जिस गली में हत्या हुई थी, वहां से सबूत जुटाए थे. मामले में नाजुक हालात को देखते हुए इलाके में भारी सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं. रिंकू शर्मा के परिवार के लोगों ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखकर सुरक्षा मुहैया करने की अपील की थी.

इसके बाद नेताओं का रिंकू शर्मा के घर आना-जाना भी शुरू हो गया है. रिंकू शर्मा की हत्या के बाद राजनीतिक बयानबाजियां शुरू हो गईं. आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा था कि बीजेपी राज में हिंदू सुरक्षित नहीं हैं. आम आदमी पार्टी ने गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग की थी. वहीं, कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने अरविंद केजरीवाल के 3 अक्टूबर, 2015 के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए उनसे रिंकू शर्मा के घर जाने को लेकर सवाल किया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें