scorecardresearch
 

Toolkit केस में Twitter के दिल्ली और गुरुग्राम दफ्तर पहुंची स्पेशल सेल

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल टीम Twitter के लाडो सराय दफ्तर पहुंची है. स्पेशल सेल की टीम टूल किट मामले की जांच को लेकर Twitter के दफ्तर पहुंची है. इतना ही नहीं गुरग्राम के Twitter के दफ्तर पर भी स्पेशल टीम पहुंचने वाली है. यानी कि एक साथ Twitter के 2 दफ्तर पर स्पेशल सेल जांच के लिए पहुंची है.

Twitter दफ्तर पहुंची दिल्ली पुलिस Twitter दफ्तर पहुंची दिल्ली पुलिस
स्टोरी हाइलाइट्स
  • टूलकिट मामले में दिल्ली पुलिस कर रही है जांच
  • Twitter के दिल्ली-गुरुग्राम दफ्तर पहुंची स्पेशल सेल
  • इससे पहले ट्विटर ऑफिस को भेजा था नोटिस

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल टीम Twitter के लाडो सराय दफ्तर पहुंची है. स्पेशल सेल की टीम टूल किट मामले की जांच को लेकर Twitter के दफ्तर पहुंची है. इतना ही नहीं गुरग्राम के Twitter के दफ्तर पर भी स्पेशल टीम पहुंचने वाली है. यानी कि एक साथ Twitter के 2 दफ्तर पर स्पेशल सेल जांच के लिए पहुंची है.

इससे पहले दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने टूलकिट मामले में ट्विटर इंडिया के प्रमुख मनीष माहेश्वरी को नोटिस भेजा था. दिल्ली पुलिस का कहना है कि वो एक शिकायत पर जांच कर रही है, जिसमें ट्विटर से संबित पात्रा के ट्वीट को मैनुपुलेटिव फ्लैग करने पर सफाई मांगी गई है.

21 मई को दिल्ली पुलिस ने मनीष माहेश्वरी को एक ईमेल भेजा था. जिसमें कहा गया था टूलकिट मामले को लेकर शुरुआती जांच शुरू हो गई है. जो कथित तौर पर कांग्रेस द्वारा रिलीज की गई थी. जांच के दौरान हमें पता चला कि आप इस केस से जुड़े फैक्ट से परिचित हैं और इस मामले में आपके पास अहम सूचना है. इसलिए आपसे अनुरोध है कि आप 22 मई को सभी जरूरी दस्तावेज के साथ ऑफिस में उपस्थित रहें.  

सूत्र ने आजतक को बताया कि मनीष माहेश्वरी ने मेल को लेकर कहा कि यह मेल उन्हें गलती से ट्विटर कम्यूनिकेशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर समझ कर भेजा गया है.

वहीं केंद्र सरकार की तरफ से कहा गया कि दिल्ली पुलिस, दिए गए नोटिस को लेकर Twitter ऑफिस पहुंची थी. यह रूटीन विजिट था. यह इसलिए भी आवश्यक था क्योंकि दिल्ली पुलिस जानना चाहती थी कि इस मामले में नोटिस किसे भेजें. यह जानना आवश्यक था कि नोटिस किसे भेजा जाए, क्योंकि ट्विटर इंडिया के MD का बयान अस्पष्ट था.  

कांग्रेस ने इस मसले को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि जान लें, ट्विटर के दिल्ली-गुरुग्राम दफ़्तर पर रेड डालने वाली डरपोक भाजपा सरकार “रेड राज” से फ़र्ज़ी टूलकिट का सच नही छिपा सकती.

कहां से शुरू हुआ विवाद

इस टूलकिट विवाद ने तूल तब पकड़ा था जब संबित की तरफ से कह दिया गया कि कांग्रेस ने एक ऐसी टूलकिट बनाई गई है जिसके जरिए मोदी सरकार को बदनाम करने का काम हो रहा है. ट्वीट कर संबित ने तब राहुल गांधी पर भी निशाना साधा था.

उन्होंने कहा था कि राहुल लगातार कोरोना को लेकर जो भी ट्वीट करते हैं, वो जिस अंदाज में पीएम मोदी पर हमला करते हैं, वो सब कांग्रेस की टूलकिट का हिस्सा है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें