scorecardresearch
 

कोरोना रिपोर्ट निगेटिव होगी, तभी इन पांच राज्य के लोगों को मिलेगी दिल्ली में एंट्री!

कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए दिल्ली सरकार अलर्ट हो गई है. महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और पंजाब से दिल्ली आने वाले लोगों को निगेटिव RT-PCR दिखाने पर ही दिल्ली में एंट्री मिलेगी.

निगेटिव कोरोना रिपोर्ट होने पर ही दिल्ली में मिलेगी एंट्री (सांकेतिक तस्वीर-pti) निगेटिव कोरोना रिपोर्ट होने पर ही दिल्ली में मिलेगी एंट्री (सांकेतिक तस्वीर-pti)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली सरकार आज जारी करेगी औपचारिक आदेश
  • महाराष्ट्र, केरल समेत 5 राज्यों से आने वालों पर सख्ती

कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए दिल्ली सरकार अलर्ट हो गई है. अब पांच राज्यों से दिल्ली आने वाले लोगों को कोरोना निगेटिव रिपोर्ट लेकर आना अनिवार्य होगा. महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और पंजाब से दिल्ली आने वाले लोगों को निगेटिव RT-PCR दिखाने पर ही दिल्ली में एंट्री मिलेगी.

बीते एक हफ्ते में जो नए कोरोना मामले आए हैं, उसमें 86 फीसदी मामले इन्हीं पांच राज्यों से हैं, जिसके बाद दिल्ली सरकार ने यह फैसला किया है. इस फैसले को लेकर औपचारिक आदेश आज जारी होगा. इन पांच राज्यों के नोडल ऑफिसर से कहा जाएगा कि वह अपने यहां से दिल्ली जा रहे लोगों की 72 घंटे तक पुरानी निगेटिव RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट सुनिश्चित करें.

दिल्ली सरकार का यह आदेश 26 फरवरी शुक्रवार की आधी रात से लेकर 15 मार्च दोपहर 12 बजे तक लागू रहेगा. यह आदेश फ्लाइट, ट्रेन और बस से दिल्ली आने वाले यात्रियों पर लागू होगा, जबकि कार से दिल्ली आने वाले यात्री इससे बाहर रहेंगे. यानी अगर आप इन पांच राज्यों से आते हैं तो आपके पास निगेटिव RT-PCR रिपोर्ट होना अनिवार्य है.

इससे पहले उत्तराखंड सरकार ने इन पांच राज्य से आने वाले लोगों का कोरोना टेस्ट अनिवार्य कर दिया था. सरकार ने अपने फैसले में कहा था कि महाराष्ट्र, गुजरात, केरल, मध्य पदेश और छत्तीसगढ़ से आने वाले लोगों की जिले के बॉर्डर पर कोरोना की जांच की जाएगी. इसके लिए आशारोड़ी चेकपोस्ट, रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर व्यवस्था बनाई जा रही है.

कल स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा था कि देश में कोरोना के एक्टिव मामले 1 लाख 50 हजार से नीचे बने हुए हैं, लेकिन कुछ राज्यों जैसे केरल, महाराष्ट्र और पंजाब में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं, जो चिंता का विषय है. इन प्रदेशों में प्रतिदिन कोरोना मामले बढ़ते जा रहे हैं. अकेले केरल में ही 38 प्रतिशत एक्टिव कोरोना मामले हैं, जबकि महाराष्ट्र में 37 प्रतिशत एक्टिव मामले हैं.

पिछले सप्ताह के नए मामलों को देखें तो करीब 7 से 8 राज्यों में स्थिति गंभीर हो नजर आ रही है. महाराष्ट्र में पिछले सप्ताह कोरोना के नए मामलों में 81% की वृद्धि दर्ज की गई, मध्य प्रदेश में 43%, पंजाब में 31%, जम्मू-कश्मीर में 22%, छत्तीसगढ़ में 13% और हरियाणा 11% वृद्धि दर्ज की गई. इसके अलावा चंडीगढ़ में कोरोना के मामलों में 43% की वृद्धि देखी गई.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें