scorecardresearch
 

AAP की मांग- जामिया छात्रों से मारपीट करने वाली दिल्ली पुलिस के खिलाफ हो कार्रवाई

दिल्ली पुलिस के रवैये पर सवाल खड़ा करते हुए संजय सिंह ने मांग की और कहा कि किसी का सिर फोड़ दिया किसी की नाक तोड़ दी, यह जुर्म की हद है. इस तरह छात्र अपने अधिकार के लिए आवाज उठाना बन्द कर देंगे. जिन दिल्ली पुलिस के लोगों ने जामिया में छात्राओं के साथ मारपीट की उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.

17 दिसंबर को JMI के सामने की तस्वीर (फोटो- पीटीआई) 17 दिसंबर को JMI के सामने की तस्वीर (फोटो- पीटीआई)

  • AAP ने दिल्ली पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की मांग की
  • लड़के, लड़कियों को क्यों पीटा गया?
  • 'भाजपा की चुनाव हारने की बौखलाहट'
जामिया हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस से आम आदमी पार्टी ने सवाल पूछे हैं. आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने 'आजतक' से बातचीत में कहा है कि "दिल्ली पुलिस को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए, अगर जामिया के छात्र हिंसा में नही थे तो होस्टल में घुसकर मारपीट क्यों हुई"

दिल्ली पुलिस के रवैये पर सवाल खड़ा करते हुए संजय सिंह ने मांग की और कहा कि "किसी का सिर फोड़ दिया किसी की नाक तोड़ दी, यह जुर्म की हद है. इस तरह छात्र अपने अधिकार के लिए आवाज उठाना बन्द कर देंगे. जिन दिल्ली पुलिस के लोगों ने जामिया में छात्राओं के साथ मारपीट की उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए"

जामिया छात्रों को क्यों पीटा

इस बीच आम आदमी पार्टी सरकार में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने भी बीजेपी को घेरते हुए दिल्ली पुलिस पर सवाल किए हैं. सिसोदिया ने ट्वीट किया "क्या बीजेपी अब जवाब देगी कि छात्रों पर बिना वजह लाठियां क्यों बरसाई गईं? क्यों होस्टल और लाइब्रेरी में घुसकर लड़के लड़कियों को बेरहमी से पीटा गया?"

हाल ही में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के मुद्दों पर गृहमंत्री से मुलाकात के लिए समय मांगने का जिक्र किया था. इस सवाल पर 'आप' नेता संजय ने कहा कि "गृहमंत्री से मुलाकात का समय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मांगा है. मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के मुद्दे गृहमंत्री के सामने रखेंगे. लेकिन गृहमंत्री सुनने को तैयार नही हैं. जबसे अमित शाह गृहमंत्री बने हैं 24 घण्टे में 9 हत्याएं हो रही हैं, दिल्ली की सड़कों पर गैंगवार और बलात्कार की घटनाएं बढ़ रही हैं"

जामिया मामले में आम आदमी पार्टी नेताओं पर कानूनी कार्रवाई की मांग के सवाल पर भी संजय सिंह बीजेपी पर भड़क गए. सिंह ने कहा कि "आम आदमी पार्टी को टारगेट करना सबसे आसान है. 25 विधायकों को जेल में डाला लेकिन कुछ नही मिला, मुख्यमंत्री से लेकर उपमुख्यमंत्री, और स्वास्थ्य मंत्री पर सीबीआई का छापा मारा गया. आप इस देश के हिटलर हैं, जो करना है करिए, हम परवाह नही करते हैं"

बीजेपी की हार की बौखलाहट

अमानतुल्लाह खान की मौजूदगी पर संजय सिंह ने कहा कि "उस कार्यक्रम में कांग्रेस के कांग्रेस के पूर्व विधायक आसिम मोहम्मद खान भी थे. और अगर अमानतुल्लाह खान थे, कोई हिंसा नही हुई, अगर आगजनी हुई तो उसका कोई प्रमाण नही है कि उस हिंसा में अमानतुल्लाह खान का हाथ हो. बावजूद इसके अमानतुल्लाह खान को जेल में डालना चाहते हैं तो यह भाजपा की दिल्ली विधानसभा चुनाव हारने की बौखलाहट है, हिटलरशाही है तो संजय सिंह, अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया को जेल में डाल दो."

जामिया हिंसा मामले में जांच के सवाल पर संजय सिंह ने कहा कि जांच का एक पक्ष सामने आया जहां 10 लोग गिरफ्तार हुए हैं. लेकिन अब सवाल यह है की निर्दोष छात्रों के साथ हुई मारपीट के लिए, पुलिस वालों पर कार्रवाई कब होगी?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें