scorecardresearch
 

दिल्ली: कोरोना पर केजरीवाल का प्लान, ऑक्सीजन बैंक की शुरुआत, 2 घंटे में घर पहुंचेगा कंसंट्रेटर

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि होम आइसोलेशन में इलाज करा रहे किसी भी कोरोना मरीज को जरूरत पड़ने पर दो घंटे के अंदर उनके घर तक ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पहुंचाया जाएगा. हर जिले में 200 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का बैंक बनाया गया है. 

X
ऑक्सीजन कंसंट्रेटर (सांकेतिक फ़ोटो) ऑक्सीजन कंसंट्रेटर (सांकेतिक फ़ोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में ऑक्सीजन बैंक की शुरुआत
  • 2 घंटे में होम आइसोलेशन वालों घर पहुंचेगा कंसंट्रेटर
  • कोरोना संकट पर सीएम केजरीवाल का नया प्लान

दिल्ली में ऑक्सीजन को लेकर मचे घमासान के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बड़ा ऐलान किया. उन्होंने कहा कि आज से हम दिल्ली में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक की जरूरी सेवा शुरू कर रहे हैं. कोरोना मरीजों को समय पर ऑक्सीजन मिलना बहुत जरूरी है, इससे हम बहुत जानें बचा पाएंगे. 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि होम आइसोलेशन में इलाज करा रहे किसी भी कोरोना मरीज को जरूरत पड़ने पर दो घंटे के अंदर उनके घर तक ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पहुंचाया जाएगा. हर जिले में 200 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का बैंक बनाया गया है. 

जिनको ऑक्सीजन कंसंट्रेटर दिया जाएगा उनके संपर्क में डॉक्टर लगातार रहेंगे. ठीक होने के बाद ऑक्सीजन कंसंट्रेटर ये लोग वापस कर देंगे, फिर उसको सैनिटाइज किया जाएगा और किसी दूसरे मरीज को दिया जाएगा. 1031 पर कॉल करके भी आप होम आइसोलेशन ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की डिमांड कर सकते हैं. 

क्लिक करें- Black Fungus: आंख-नाक-जबड़े पर ब्लैक फंगस का हमला, सरकार ने बताए लक्षण और बचने के तरीके

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि आज (शनिवार) कोरोना के केस 6500 ही आये, कल 8500 थे. संक्रमण दर दर 12 से घटकर 11 हो गई है. वहीं कल 500 और आईसीयू बेड बनकर और तैयार हो गए हैं. अभी कुछ दिन पहले ही 500 आईसीयू बेड तैयार हुए थे. 

उन्होंने बताया कि 15 दिनों में आईसीयू के 1000 बेड्स तैयार हो गए हैं, इसका सारा श्रेय डॉक्टर और इंजीनियर को जाता है. इन सबको दिल्ली के लोगों की तरफ से सलाम, इनका कोटि-कोटि धन्यवाद. मुख्यमंत्री ने आगे बताया कि आज से हम एक और जरूरी सेवा शुरू कर रहे हैं. हम ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक शुरू कर रहे हैं. 

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि देखा जाता है कि जिसको संक्रमण होता है और उसकी तबीयत बिगड़ने शुरू हो तो समय पर ऑक्सीजन देने पर तबीयत ठीक हो जाती है. लेकिन समय पर ऑक्सीजन ना मिले तो बिगड़ते-बिगड़ते मरीज आईसीयू में पहुंच जाता है और कई मामलों में तो मौत हो जाती है. ऐसे में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक उपयोगी साबित होगा. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें