scorecardresearch
 

बवाना उपचुनाव: घर-घर जाकर केजरीवाल ने मांगे वोट

जनसभाओं की बजाए आम आदमी पार्टी ने डोर टू डोर कैम्पेन पर ज्यादा फोकस किया. कभी सेल्फी, तो कभी फूल माला के स्वागत के साथ अरविंद केजरीवाल जनता से वोट की गुहार लगाते नजर आए.

बवाना में केजरीवाल बवाना में केजरीवाल

बवाना विधानसभा में 23 अगस्त को होने जा रहे उपचुनाव को जीतने के लिए तमाम राजनीतिक दल हर कोशिश कर रहे हैं. आम आदमी पार्टी के लिए बवाना उपचुनाव बेहद अहम है. यही वजह है कि प्रचार खत्म होने के कुछ घंटे पहले अरविंद केजरीवाल ने बवाना की गलियों में घर-घर जाकर वोट मांगे.

लोगों से मिलकर मांगा वोट

जनसभाओं की बजाए आम आदमी पार्टी ने डोर टू डोर कैम्पेन पर ज्यादा फोकस किया. कभी सेल्फी, तो कभी फूल माला के स्वागत के साथ अरविंद केजरीवाल जनता से वोट की गुहार लगाते नजर आए. पदयात्रा के दौरान अरविंद केजरीवाल रुक-रुककर जनता से मुलाकात करते और उनकी समस्या निपटाने का वादा भी करते. वोट की अपील करते हुए केजरीवाल ने बीजेपी के मौजूदा उम्मीदवार और पूर्व में 'आप' के विधायक रहे, वेद प्रकाश को धोखेबाज भी बताया.

केजरीवाल ने ली समस्याओं की जिम्मेदारी

शाहबाद डेरी इलाके में पदयात्रा के दौरान अरविंद केजरीवाल ने लोगों से बातचीत भी की. उन्होंने कहा, 'पिछले एक घंटे से आपके इलाके में घूम रहा हूं. यहां पानी, गली और स्कूल की तीन बड़ी समस्याएं हैं. पानी और गली की मैं गारंटी लेता हूँ. शाहबाद डेरी का ठेका दिया जा चुका है, गलियां बननी शुरू हो गयी हैं. पानी की पाइपलाइन कई जगह डल चुकी हैं. 6 महीने में स्कूल बनकर तैयार हो जाएगा.'  

जमकर वोट देने की अपील

केजरीवाल ने आगे कहा, 'पिछली बार आपने जमकर वोट दिया था. गलती हुई कि गलत आदमी को टिकट दिया. इसने हमें और आपको भी धोखा दिया. आपसे निवेदन है कि इस बार भी जमकर वोट देना. आपकी समस्याओं की जिम्मेदारी लेकर जा रहा हूं.'

AAP ही कराएगी काम

केजरीवाल ने बवाना में प्रचार के दौरान हर रैली, हर जनसभा में जनता से अपील की है कि बीजेपी और कांग्रेस को वोट देना बेकार है क्योंकि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार है और काम आम आदमी पार्टी ही कराएगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें