scorecardresearch
 

ऑटोलिफ्टर गैंग: 60 सेकेंड में तोड़ देते थे बाइक का लॉक, इस फिल्म से थे प्रेरित

साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट से इस गैंग ने लगभग 1 महीने में मोटरसाइकिल चोरी की 18 वारदातों को अंजाम दिया है.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

हॉलीवुड फिल्म 'गोन इन सेकेंड' से इंस्पायर होकर 60 सेकेंड में मोटरसाइकिल को चुराने वाले ऑटोलिफ्टर गैंग का चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. इस गैंग के चोर कुछ ही सेकेंडों में मोटरसाइकिल का लॉक तोड़ देते और उसे लेकर फरार हो जाते थे. इसके बाद यूपी में चोरी की मोटरसाइकिलों को डिस्पोज कराते थे.

चोरी की 22 मोटरसाइकिल बरामद और 2 आरोपी गिरफ़्तार

साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक के AATS स्टाफ ने एक ऐसे ऑटोलिफ्फ्टर गैंग का पर्दाफाश किया है जो सड़क किनारे पार्किंग में या फिर आपके घर के आगे खड़ी मोटरसाइकिल को बड़े ही शातिराना तरीके से लेकर फरार हो जाते थे. दरसअल ये लोग हॉलीवुड मूवी 'GONE IN SECOND' से प्रेरित थे और 60 मोटरसाइकिलें चुराकर एक ऑटो रिक्शा खरीदना चाहते थे.

यही नहीं, इसके बाद वे बड़े पैमाने पर नशे का कारोबार करना चाहते थे, लेकिन पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तारी के साथ पुलिस ने इनके पास से चोरी की 22 मोटरसाइकिलें भी बरामद की हैं और इन्हें सलाखों के पीछे भेज दिया है.

गिरफ्तार चोरों की उम्र भले ही कम हो लेकिन इनके गुनाहों की लिस्ट काफी बड़ी है. साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट से इन्होंने लगभग 1 महीने में मोटरसाइकिल चोरी की 18 वारदातों को अंजाम दिया है. वहीं, साउथ दिल्ली में भी इन्होंने चोरी की कई वारदातों को अंजाम दिया.

गिरफ्त में आए चोरों से पुलिस ने 22 मोटरसाइकिल बरामद कर राहत की सांस ली है. क्योंकि पिछले एक महीने से लगातार इन्होंने पुलिस की नींद उड़ा रखी थी. इस दौरान पुलिस को हर एक बाइक के चोरी होने की कॉल मिल रही थी.

पुलिस की पूछताछ में आरोपी मनमीत उर्फ मोनू और सुमित उर्फ सुक्का ने बताया कि वो मोटरसाइकिल चोरी के मामले में कई बार जेल जा चुके हैं. इस बार तिहाड़ जेल से बाहर आने के बाद एक हॉलीवुड मूवी GONE IN SECOND देखी और इन दोनों ने 60 मोटरसाइकिल चुराने का एक प्लान बनाया. ये मोटरसाइकिल चुराकर उससे यूपी के मेरठ में बेचकर उससे जो पैसा मिलता उससे एक ऑटो रिक्शा खरीदकर नशे के कारोबार में उसका इश्तेमाल करना चाहते थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें