scorecardresearch
 

संजय सिंह बने AAP दिल्ली प्रभारी, पंकज गुप्ता को प्रचार की जिम्मेदारी

आम आदमी पार्टी ने आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है. अरविंद केजरीवाल के घर पर गुरुवार को पार्टी के पॉलिटिकल अफेयर्स कमेटी की बैठक हुई. इस बैठक में संजय सिंह को दिल्ली चुनाव का प्रभारी बनाया गया, जबकि प्रचार की कमान पंकज गुप्ता को सौंपी गई है.

AAP सांसद संजय सिंह (Photo- AajTak) AAP सांसद संजय सिंह (Photo- AajTak)

  • आगामी विधानसभा चुनाव के लिए AAP की तैयारियां शुरू
  • सांसद संजय सिंह को नियुक्त किया गया दिल्ली का प्रभारी

आगामी दिल्ली में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी (AAP) ने तैयारियां शुरू कर दी है. पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पर बुलाई गई आम आदमी पार्टी की सबसे बड़ी इकाई पॉलीटिकल अफेयर्स कमेटी की बैठक में आपने अहम फैसले लिए हैं जिसके तहत पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह को दिल्ली का प्रभारी नियुक्त किया गया है.

अरविंद केजरीवाल के सबसे करीबी नेताओं में से एक संजय सिंह आम आदमी पार्टी के लिए दिल्ली के चुनाव की कमान संभालेंगे. वहीं, लोकसभा चुनाव में चांदनी चौक से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार रहे पंकज गुप्ता को केजरीवाल ने विधानसभा चुनाव में प्रचार की रूपरेखा तय करने की कमान सौंपी है.

गुरुवार की सुबह अरविंद केजरीवाल के घर पर हुई बैठक में लिए गए फैसलों में संजय सिंह को दिल्ली का प्रभारी नियुक्त किए जाने का फैसला सबसे महत्वपूर्ण है.

आम आदमी पार्टी को लगता है कि झारखंड के साथ ही दिल्ली विधानसभा के चुनाव भी करवाए जा सकते हैं इसलिए पार्टी ने समय से पहले ही चुनावी तैयारियां शुरू कर दी है. अरविंद केजरीवाल और दिल्ली सरकार चुनाव के मद्देनजर लगातार ही दिल्ली को सौगात पर सौगात दिए जा रहे हैं जिसे चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है.

आम आदमी पार्टी के सूत्रों ने आजतक को बताया है कि वह इस चुनाव में अरविंद केजरीवाल की सरकार के कामकाज को मुद्दा बनाकर और उसी पर दिल्ली का विधानसभा चुनाव लड़ेगी. दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी केजरीवाल सरकार द्वारा शिक्षा स्वास्थ्य बिजली और पानी के क्षेत्र में किए गए कार्यों  को ही अहम मुद्दा बनाएगी.

हाल ही में केजरीवाल सरकार द्वारा 200 यूनिट तक दिल्ली वालों को मुफ्त बिजली और बड़ी तादाद में राजधानी में रहने वाले किरायेदारों के लिए अलग मीटर मुहैया कराए जाने की घोषणा को भी पार्टी भुनाने की कोशिश करेगी.

सूत्रों का यह भी मानना है कि पार्टी उन विधायकों के टिकट काट सकती है जिनकी परफॉर्मेंस संतोषजनक नहीं रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें