scorecardresearch
 

चुनाव में हारे नेता के बेटे ने विजयी नेता की भतीजी को दिल्ली के जीबी रोड पर बेचा

क्या आप यकीन करेंगे की पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनावों की राजनीति के दंगल में एक मासूम जिंदगी कुचल दी गई. यकीन नहीं आता लेकिन ये सच है कि चुनाव में अपनी हार का बदला लेने के लिए एक नेता के बेटे ने विपक्षी दल के नेता की नाबालिग भतीजी का अपहरण करवाया और फिर उसे दिल्ली के बदनाम रेड लाइट एरिया जीबी रोड के एक कोठे में बेचकर जिस्मफरोशी की दलदल में धकेल दिया.

छुड़ाई गई मासूम छुड़ाई गई मासूम

क्या आप यकीन करेंगे की पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनावों की राजनीति के दंगल में एक मासूम जिंदगी कुचल दी गई. यकीन नहीं आता लेकिन ये सच है कि चुनाव में अपनी हार का बदला लेने के लिए एक नेता के बेटे ने विपक्षी दल के नेता की नाबालिग भतीजी का अपहरण करवाया और फिर उसे दिल्ली के बदनाम रेड लाइट एरिया जीबी रोड के एक कोठे में बेचकर जिस्मफरोशी की दलदल में धकेल दिया.

कई रातों से सेंट्रल दिल्ली की पुलिस टीम लड़की कि तलाश में जीबी रोड के कोठों पर बड़े पैमाने पर छापामारी कर रही थी. कई तहखाने तोड़े गए मगर बदकिस्मती से सभी खाली मिले. सुराग के नाम पर पुलिस के पास ये खबर थी कि उस लड़की को कोठा नम्बर 55 पर देखा गया है. पुलिस को जानकारी मिली थी कि जिस महिला के पास लड़की को भेजा गया है वो महिला शास्त्री पार्क होते हुए जाएगी और उसको बीच रास्ते में पकड़ा जा सकता है.

पुलिस उस सूचना के आधार पर बताये ठिकाने पर पहुंची और उस महिला को पकड़ने के लिए जाल बिछा दिया. वो महिला पुलिस के डर से इस नाबालिग लड़की को सुनसान जगह पर छोड़कर फरार हो गई. पुलिस ने जब लड़की की तलाश करनी शुरू की तो वो मासूम शास्त्री पार्क के सुनसान रोड पर खड़ी मिल गई.

कौन है ये लड़की?
क्या आप ये नहीं जानना चाहेंगे कि आखिर वो लड़की है कौन है जिसे पुलिस इतनी शिद्दत से ढूंढ़ रही थी. दरअसल ये मासूम लड़की ठोला हठ दक्षिण परगना, वेस्ट बंगाल की रहने वाली है. दो महीने पहले जब ये होटल से खाना लेने जा रही थी तो कुछ लोगों ने इसका अपहरण कर लिया और फिर इसे दिल्ली के रेड लाइट एरिये की बदनाम गलियों में बेच दिया गया.

पीड़ित लड़की ने कहा, 'चाचा सीपीएम के नेता हैं और उस लड़के के पापा तृणमूल के नेता है, मेरे चाचा चुनाव में जीत गए, इसके बाद खूब लड़ाई हुई. फिर मेरे मुंह पर रुमाल रखकर मुझे दिल्ली के जीबी रोड लाया गया.'

जीबी रोड पर लड़की के साथ दरिंदगी
जीबी रोड पर आने के बाद लड़की का कई बार यौन शोषण किया गया. मना करने पर उसे मारा पीटा जाता था. लेकिन एक दिन लड़की ने अपने एक ग्राहक से मदद कि गुहार लगाई. युवक ने लड़की के घरवालों को इसकी खबर दी. इसके बाद परिवार के लोगों ने पुलिस के साथ मिलकर इसे लड़की को आजाद करवाया. पीड़िता ने कहा, 'मुझसे यहां जबरदस्ती हुई और कई बार सिगरेट से भी जलाया गया.'

पुलिस ने लड़की की निशानदेही पर दिलशाद गार्डन से प्रेमवती नाम की महिला और उसके पति को गिरफ्तार कर लिया जिन्होंने इसे जिस्मफरोशी की दलदल में धकेला था. इनके अलावा पुलिस ने चार आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है और इस मामले में कमला मार्केट थाने के सात पुलिसवाले भी सस्पेंड किये गए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें