scorecardresearch
 

पार्षद ने कहा, 'अधिकारी कहते है ऊपर वाले रिश्वत लेते हैं'

दरसअल सदन की बैठक के दौरान कई पार्षदों ने अधिकारियों की शिकायत की कि वो सुनते नहीं हैं जब पूछो तो अधिकारी काम न करने की धमकी देते हैं, उल्टा रिश्वत के पैसे का हिस्सा लेने की पेशकश कर देते हैं.

पार्षद ने कहा, 'अधिकारी कहते है ऊपर वाले रिश्वत लेते हैं' पार्षद ने कहा, 'अधिकारी कहते है ऊपर वाले रिश्वत लेते हैं'

उत्तरी दिल्ली नगर निगम के हाउस मीटिंग में मेयर और निगम कमिश्नर के बीच जमकर चले शब्दों के बाण. पार्षदों ने निगम अधिकारियों को उनकी बात नहीं सुनने की शिकायत की तो मेयर ने उन्हें ऐसा न करने की चेतावनी दी तो जवाब में निगम कमिश्नर ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर मेयर प्रीति अग्रवाल पर ही तंज कस दिया.

दरसअल सदन की बैठक के दौरान कई पार्षदों ने अधिकारियों की शिकायत की कि वो सुनते नहीं हैं जब पूछो तो अधिकारी काम न करने की धमकी देते हैं, उल्टा रिश्वत के पैसे का हिस्सा लेने की पेशकश कर देते हैं. अधिकारी ये भी दावा करते हैं कि उनका कोई कुछ नही बिगाड़ सकता. पैसा तो ऊपर तक पहुंचता है तो फिर क्या था. उत्तरी दिल्ली की मेयर प्रीति अग्रवाल ने तुरंत कमिश्नर मधुप व्यास को ऊपर वाले का नाम बताने को कहा.

तो निगम कमिश्नर ने बड़े ही तंज लहजे में जवाब दिया. 'सबसे ऊपर तो भगवान हैं लेकिन निगम में तो ऊपर मेयर, स्टैंडिंग कमेटी चेयरमैन  हैं.'

ये बयान सुनते ही बीजेपी के पार्षदों ने हंगामा कर दिया और नेता सदन जयेंद्र डबास ने कमिश्नर को शब्दों के चयन पर धयान देने को कहा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें