scorecardresearch
 

दिल्ली में अब तक सिर्फ 10 फीसदी लोगों ने लगवाई है बूस्टर डोज, अब 500 मोहल्ला क्लीनिक में वैक्सीनेशन की तैयारी

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच अब तक महज 10 फीसदी लोगों ने ही बूस्टर डोज लगवाई है. कुल मिलाकर देखें तो पहली, दूसरी और बूस्टर डोज को मिलाकर वैक्सीन की 3.49 करोड़ डोज लगाई जा चुकी है.

X
दिल्ली में अब तक 10 फीसदी लोगों को ही लगी वैक्सीन की बूस्टर डोज (फाइल फोटोः PTI) दिल्ली में अब तक 10 फीसदी लोगों को ही लगी वैक्सीन की बूस्टर डोज (फाइल फोटोः PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मोहल्ला क्लीनिक वैक्सीनेशन सेंटर शुरू करेगी दिल्ली सरकार
  • मोहल्ला क्लीनिक पर मुफ्त लगेगी वैक्सीन- मनीष सिसोदिया 

कोरोना वायरस से संक्रमण के मामले फिर से बढ़ रहे हैं. तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच बचाव के लिए बूस्टर डोज लगाई तो जा रही है लेकिन इसकी रफ्तार काफी धीमी है. दिल्ली में वैक्सीन बूस्टर डोज और पहली-दूसरी डोज, कुल मिलाकर 3.49 करोड़ डोज लगाई जा चुकी है. इस बीच अब दिल्ली के 500 मोहल्ला क्लीनिक में वैक्सीनेशन की तैयारी है.

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार ने वैक्सीनेशन में तेजी लाने के लिए मोहल्ला क्लीनिक पर वैक्सीनेशन सेंटर स्थापित करने का ऐलान किया है. दिल्ली सरकार के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा है कि आम आदमी मोहल्ला क्लीनिक में वैक्सीनेशन सेंटर शुरू किया जाएगा जहां लोगों को मुफ्त में कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी.

उन्होंने कहा है कि इसके लिए हर मोहल्ला क्लीनिक में वैक्सीनेशन सेंटर स्थापित किए जाएंगे. डिप्टी सीएम सिसोदिया ने ये भी कहा है कि वैक्सीनेशन के लिए हर मोहल्ला क्लीनिक में एक प्रशिक्षित हेल्थकेयर स्टाफ नियुक्त किया जाएगा जो वैक्सीनेशन का काम करेगा. उन्होंने आगे कहा कि हर मोहल्ला क्लीनिक को पर्याप्त वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएगी.

डिप्टी सीएम सिसोदिया ने साथ ही ये भी कहा है कि लाभार्थियों की काउंसलिंग करने और क्लीनिक में कोरोना वैक्सीनेशन संबंधी दिशानिर्देशों का पालन किया जाए, ये सुनिश्चित करने के लिए भी हर मोहल्ला क्लीनिक में एक स्टाफ की तैनाती की जाएगी. उन्होंने कहा कि जैसे ही मोहल्ला क्लीनिक में वैक्सीनेशन सेंटर शुरू होंगे, को-विन पर इसे अपलोड कर दिया जाएगा और इसके बाद आसानी से स्लॉट बुक कराए जा सकेंगे.

मनीष सिसोदिया ने कहा कि अधिकारियों को संबंधित कार्य जल्द पूरा करने और मोहल्ला क्लीनिकों में वैक्सीनेशन सेंटर्स को प्राथमिकता के आधार पर शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि शहर की ज्यादातर आबादी को वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज लगाई जा चुकी है लेकिन अभी भी कुछ लोगों को दूसरी डोज और आबादी के एक बड़े हिस्से को कोरोना से बचाव के लिए बूस्टर डोज दिया जाना बाकी है.

गौरतलब है कि पहले दिल्ली सरकार के स्कूलों का उपयोग वैक्सीनेशन सेंटर के रूप में किया जा रहा था. अब स्कूल खुल गए हैं. ऐसे में लोगों को कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए परेशान न होना पड़े, दिल्ली सरकार ने आबादी वाले क्षेत्रों में स्थित आम आदमी मोहल्ला क्लीनिक में वैक्सीनेशन सेंटर खोलने का ऐलान कर दिया है. सरकार का कहना है कि मोहल्ला क्लीनिक में वैक्सीनेशन सेंटर खोले जाने से वंचित लोगों को फायदा मिलेगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें