scorecardresearch
 

ब्लैक फंगस के बढ़ते केस पर बोले केजरीवाल- जरूरत पड़ी तो दिल्ली में भी घोषित करेंगे महामारी

सीएम केजरीवाल ने कहा कि सभी डॉक्टर और हॉस्पिटल से मैं अपील करना चाहता हूं कि स्टेरॉयड का कम से कम इस्तेमाल करें. यह सामने आया है कि बहुत ज्यादा स्टेरॉयड इस्तेमाल करने से ब्लैक फंगस की समस्या बढ़ रही है.

X
ब्लैक फंगस के मरीज़ बढ़ रहे (फ़ोटो- PTI)
ब्लैक फंगस के मरीज़ बढ़ रहे (फ़ोटो- PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में ब्लैक फंगस के बढ़ रहे केस
  • सीएम केजरीवाल ने ब्लैक फंगस पर दिया बयान

दिल्ली में कोरोना संकट के बीच ब्लैक फंगस के केस लगातार बढ़ रहे हैं. इसको लेकर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा कि अगर ज़रूरत पड़ी तो ब्लैक फंगस को दिल्ली में भी महामारी घोषित करेंगे. इसके लिए सभी जरूरी कदम उठाए जाएंगे. 

दरअसल, सीएम केजरीवाल से सवाल किया गया कि कुछ राज्यों ने ब्लैक फंगस को महामारी घोषित किया है, क्या दिल्ली में भी घोषित करने की स्थिति है? इसपर उन्होंने जवाब दिया, "अगर जरूरत पड़ेगी तो हम जरूर करेंगे जो भी कदम उठाने की जरूरत होगी हम वह सारे स्टेप उठाएंगे."

ब्लैक फंगस पर बोले केजरीवाल

उन्होंने कहा कि सभी डॉक्टर और हॉस्पिटल से मैं अपील करना चाहता हूं कि स्टेरॉयड का कम से कम इस्तेमाल करें. यह सामने आया है कि बहुत ज्यादा स्टेरॉयड इस्तेमाल करने से यह समस्या बढ़ रही है. जो भी मरीज है वह अपनी शुगर का बहुत ख्याल रखें शुगर और स्टेरॉयड का मिश्रण होकर ब्लैक फंगस ज्यादा बढ़ रहा है. इसके बारे में हम जनता को जागरूक भी करेंगे. 

क्लिक करे- कोरोना काल में हरियाणा के गांव की बगावत, लॉकडाउन तोड़ने का ऐलान, कहा-मास्क भी नहीं लगाएंगे

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इसके लिए एक interdisciplinary डॉक्टर्स की टीम बनाने की ज़रूरत है. यह सामने आया है कि इसके इलाज के लिए कई डिसिप्लिन के 10 की टीम बनाने की जरूरत है जो कि मरीज का ख्याल रखें. ऐसे मरीजों का इलाज करने के लिए, हमने 3 सरकारी अस्पतालों  GTB, एलएनजेपी और राजीव गांधी अस्पताल में खास इंतजाम किए हैं. 

केजरीवाल ने कहा कि इसके इंजेक्शंस की बहुत ज्यादा कमी है, जिसके लिए हमने केंद्र सरकार को भी लिखा है क्योंकि जो भी प्रोडक्शन है केंद्र सरकार ने उसे टेकओवर कर लिया है और केंद्र ही उसे बांट रही है. हमें पूरी उम्मीद है कि केंद्र सरकार जितने भी इंजेक्शन की जरूरत पड़ेगी हमें देगी. इंजेक्शन के लिए हमने डॉक्टर्स की एक टीम बनाई है उस टीम के पास अप्लाई करना होगा. SOP जारी किए हैं कि इंजेक्शन किस तरह से अप्लाई किए जा सकते हैं. वो टीम देखती है कि इंजेक्शन की जरूरत है या नहीं.

ब्लैक फंगस के अभी कितने केस हैं

उन्होंने बताया कि हमारी टीम के पास कल 84 एप्लीकेशन अलग-अलग हॉस्पिटल से आए थे. सुनने में आ रहा है की 200 से ज्यादा केस हैं. लेकिन कल तक जो एप्लीकेशन आई वह 84 हैं. आज शाम तक जितनी भी आएंगी उसकी जानकारी आपको दे दी जाएगी. 

क्या लॉकडाउन बढ़ेगा?

दिल्ली के सीएम ने कहा कि वीकेंड पर उपराज्यपाल से बात करेंगे उसके बाद जो भी निर्णय होगा वह आपको बताया जाएगा. 

थर्ड वेव को लेकर क्या तैयारियां हैं? 

इसपर सीएम केजरीवाल ने कहा कि थर्ड वेव की तैयारियों को लेकर परसों सभी अधिकारियों के साथ मीटिंग की थी, जो- जो समस्याएं दूसरी वेव के दौरान आई वह समस्याएं दिल्ली में दोबारा नहीं आनी चाहिए. उसे लेकर कई सारे निर्णय हुए. हमने अधिकारियों की एक टीम बनाई है जो एक लिस्ट बनाएगी. लिस्ट उन सभी चीजों की जो तैयारियां करने की जरूरत है. जो खाका तैयार होगा उस पर युद्ध स्तर पर काम होगा ताकि जब तीसरी वेव आये तो जो अड़चन इस बार दूसरी वेव में आई थी वह अड़चनें दोबारा ना आए.

बच्चों के लिए स्पेशल टास्क फोर्स

सीएम ने कहा कि एक दूसरी कमेटी हमने बनाई है जो कि बच्चों के डॉक्टर की कमेटी है. वे लोग हमें बताएंगे कि किस किस तरीके की तैयारियां करने की जरूरत है क्योंकि अगर कोई बच्चा बीमार होता है और कोविड आईसीयू में होता है और उसके माता-पिता साथ नहीं होंगे तो वह बच्चे को आईसीयू में कौन संभालेगा. उसी तरह से बच्चों का जो ऑक्सीजन मास्क होगा उसका साइज भी अलग होगा तो बच्चों के लिए अलग किस्म के मास्क का हमें इंतजाम करना होगा. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें