scorecardresearch
 

AAP पर हमलावर हुई BJP, नेता बोले- सपने बेचते हैं केजरीवाल

सोमवार को दिल्ली बीजेपी मुख्यालय में दिल्ली बीजेपी के महामंत्री कुलजीत सिंह चहल और राजेश भाटिया के साथ-साथ उपाध्यक्ष राजीव बब्बर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन से दिल्ली की जनता को गुमराह करना छोड़ उत्तम एवं बेहतर दिल्ली के विकास के लिए काम करने को कहा.

मनोज तिवारी मनोज तिवारी

क्या केजरीवाल सरकार उसके विज्ञापनों में झूठे दावे कर रही है? क्या केजरीवाल सरकार दिल्ली वालों के पैसे भ्रामक विज्ञापनों में बरबाद कर रही है? ये सवाल इसलिए उठ रहे हैं क्योकि दिल्ली बीजेपी ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस कर केजरीवाल सरकार पर विज्ञापनों में झूठ बोलने का आरोप लगाया.

सोमवार को दिल्ली बीजेपी मुख्यालय में दिल्ली बीजेपी के महामंत्री कुलजीत सिंह चहल और राजेश भाटिया के साथ-साथ उपाध्यक्ष राजीव बब्बर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन से दिल्ली की जनता को गुमराह करना छोड़ उत्तम एवं बेहतर दिल्ली के विकास के लिए काम करने को कहा.

MCD चुनाव आते ही याद आई दिल्ली
प्रेस कांफ्रेंस में कुलजीत सिंह चहल ने कहा कि एमसीडी चुनाव नजदीक आते ही लगभग 2 साल से लापता रहे सीएम केजरीवाल को अचानक दिल्ली की चिंता सता रही है और दिल्ली सरकार अपनी दूसरी सालगिरह के बहाने भ्रामक विज्ञापन जारी कर रही है. जिसमें दिल्ली सरकार द्वारा जनलोकपाल को पास कर देना, सिख दंगा पीड़ितों को 5 लाख मुआवजा देने जैसे झूठे दावे किए जा रहे हैं.

मनोज तिवारी ने झुग्गियों और अवैध कॉलोनियों में रातें गुजारी
राजेश भाटिया ने कहा कि केजरीवाल सरकार का एक प्रमुख वादा था और आजकल वह अपने विज्ञापनों में दिल्ली को पूरा एवं स्वच्छ पानी देने का दावा कर रहे हैं. जबकि ये सब दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी के रियलिटी चेक करने के बाद हुआ. भाटिया ने बताया कि मनोज तिवारी ने झुग्गियों और अवैध कॉलोनियों में रातें गुजारी थीं. जिस दौरान स्थानीय लोगों ने उन्हें सर्दी में भी पानी की किल्लत से अवगत कराया था.

केजरीवाल ने सिखों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया
उपाध्यक्ष राजीव बब्बर ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि केजरीवाल ने सिखों की भावनाओं के साथ भी खिलवाड़ किया है. बब्बर ने आरोप लगाया कि 2014 में केन्द्र की सत्ता में आते ही मोदी सरकार ने 1984 के सिख विरोधी दंगों के पीड़ितों के लिए 5 लाख रुपए प्रति परिवार का अतिरिक्त मुआवजा देने की घोषणा की थी और खुद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने 21 परिवारों को साल 2015 में एक कार्यक्रम में चेक दिए भी थे. आगे का काम दिल्ली सरकार को करना था पर लगभग 10 महीने तक केजरीवाल सरकार मामले को दबाये बैठी रही और बीजेपी के कड़े विरोध के बाद नवंबर 2016 में चेक जारी किए गए. बब्बर ने दावा किया कि केजरीवाल सरकार विज्ञापन में ये दावा कर रही है कि ये मुआवजा उसने दिया जबकि सच यह है कि ये बीजेपी द्वारा दिया गया.

मनोज तिवारी ने बताया सपनों का सौदागर
दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सपनों का सौदागर बताया. उन्होंने ये बातें केजरीवाल के उस दावे पर कही जिसमें उन्होंने दिल्ली को लंदन जैसा बनाने को लेकर किया था. मनोज तिवारी ने आरोप लगाया कि केजरीवाल ने दिल्ली के लिए कोई काम नहीं किया. तिवारी ने कहा कि केजरीवाल ने दिल्ली को राजनीतिक धोखा दिया और दिल्ली की जनता को अपने भ्रष्टाचारी मंत्रियों पर छोड़ खुद दिल्ली के पैसे से अपनी पार्टी का विस्तार करते रहे. तिवारी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि दिल्ली को लंदन बनाने के सपने से पहले केजरीवाल ने हाल ही में हुए पंजाब के चुनावों में पंजाब को कनाडा बनाने की बात की थी जिसे देखकर लग रहा है कि अरविंद केजरीवाल सपनों के सौदागर बन गए हैं.

मनोज तिवारी ने इसके अलावा अजय माकन पर भी आरोप लगाए. तिवारी ने कहा कि एमसीडी की हालत के लिए तत्कालीन कांग्रेस सरकारें भी उतनी ही जिम्मेदार हैं जितनी वर्तमान केजरीवाल सरकार. तिवारी ने कांग्रेस से 2 सवाल पूछे हैं...
1- 2004 से 2007 तक कांग्रेस सरकार केन्द्र, दिल्ली और नगर निगम तीनों जगह सत्ता में थी और अजय माकन उस सरकार का हिस्सा थे, तब ऐसा कुछ प्रयास क्यों नहीं किया जो आज कर रहे हैं?
2- 2012 में निगम विभाजन कांग्रेस ने किया पर तब भी आर्थिक सुदृढ़ता पर ध्यान नहीं दिया और न ही पूर्वी दिल्ली नगर निगम को सीड मनी दी गई. तब अजय माकन केन्द्र सरकार में मंत्री थे और पी चिदम्बरम देश के वित्त मंत्री... आज अगर आप दोनों के पास निगमों के लिए आर्थिक विजन है, जब आप खुद दोनों मंत्री थे तब उस समय काम क्यों नहीं किया?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें