scorecardresearch
 

केजरीवाल को घेरने जा रहे बीजेपी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने ऐसे रोका

दिल्ली बीजेपी के महामंत्री कुलजीत चहल, उपाध्यक्ष जयप्रकाश और भारतीय जनता युवा मोर्चा अध्यक्ष सुनील यादव ने मार्च शुरू करने से पहले कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इसके बाद दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंदर गुप्ता ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और फिर कार्यकर्ता अरविंद केजरीवाल के घर की तरफ निकल पड़े.

बीजेपी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका बीजेपी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका

मेट्रो किराए में बढ़ोतरी के खिलाफ राजनैतिक दलों का प्रदर्शन लगातार जारी है. रविवार को भारतीय जनता युवा मोर्चा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर प्रदर्शन करने की कोशिश की. इस दौरान पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो उनकी पुलिस से धक्का-मुक्की हुई. जिसके बाद पुलिस ने वॉटर कैनन का इस्तेमाल कर उन्हें केजरीवाल के घर प्रदर्शन करने जाने से रोका.

भारतीय जनता युवा मोर्चा ने पहले आईपी कॉलेज के पास से मुख्यमंत्री निवास तक के प्रदर्शन की इजाजत मांगी थी लेकिन पुलिस ने उसकी इजाज़त नहीं दी. इसके बाद कार्यकर्ता चंदगीराम अखाड़े पहुंचे और फिर वहां से 7 फ्लैगस्टाफ रोड तक प्रदर्शन के लिए मार्च निकाला. कार्यकर्ता मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर तक जाना चाहते थे लेकिन पुलिस ने उनको रोकने के लिए दोहरी बैरिकेडिंग की.

दिल्ली बीजेपी के महामंत्री कुलजीत चहल, उपाध्यक्ष जयप्रकाश और भारतीय जनता युवा मोर्चा अध्यक्ष सुनील यादव ने मार्च शुरू करने से पहले कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इसके बाद दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंदर गुप्ता ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और फिर कार्यकर्ता अरविंद केजरीवाल के घर की तरफ निकल पड़े. इस दौरान पहले बैरिकेडिंग को कार्यकर्ताओं ने तोड़ दिया और उसको गिराते हुए आगे बढ़ने लगे.

दूसरी बैरिकेंडिग पर जब कार्यकर्ता पहुंचे तो उसे भी तोड़ आगे बढ़ने की कोशिश करने लगे. इसके बाद पुलिस ने कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए वॉटर कैनन का इस्तेमाल किया और कार्यकर्ताओं पर पानी की तेज़ धार की बौछार कर दी. वॉटर कैनन चलने के बाद कार्यकर्ताओं की भीड़ तितर बितर हो गई. इस दौरान कुछ कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में भी लिया और उन्हें प्रदर्शन स्थल से दूर ले गई.

भारतीय जनता युवा मोर्चा के मुताबिक रविवार से प्रदर्शन की शुरुआत हुई है लेकिन अब इस प्रदर्शन को ब्लॉक स्तर पर ले जाया जाएगा. मेट्रो स्टेशनों के साथ-साथ मेट्रो ट्रेनों में भी जनता को ये बताया जाएगा कि इस मुद्दे पर आम आदमी पार्टी कैसे राजनीति कर रही है. भारतीय जनता युवा मोर्चा के मुताबिक अरविंद केजरीवाल चाहते तो किराए में बढ़ोतरी को रोक सकते थे लेकिन उन्होंने उस वक्त आवाज़ नहीं उठाई. अब किराया बढ़ने के बाद खुद इसपर राजनीति कर रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×