scorecardresearch
 

भलस्वा लैंडफिल पर उड़ती धूल से भड़के गोपाल राय, एमसीडी पर लगाया 20 लाख जुर्माना

पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति को निर्देश दिए कि एमसीडी के खिलाफ 20 लाख रुपये जुर्माना लगाया जाए और कानूनी तौर पर सख्त कार्रवाई भी की जाए.

भलस्वरा लैंडफिल पर उड़ती धूल भलस्वरा लैंडफिल पर उड़ती धूल
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पर्यावरण मंत्री ने अधिकारियों को लगाई फटकार
  • एमसीडी के खिलाफ सख्त कार्रवाई के दिए निर्देश
  • कहा- बढ़ाएं पानी के टैंकरों की संख्या, करें दोगुना

दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने एक दिन पहले ही धूल को लेकर गाइडलाइंस जारी की थीं. अगले ही दिन भलस्वा लैंडफिल साइट पर गाइडलाइंस की धज्जियां उड़ती नजर आईं. इससे दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय भड़क गए. अधिकारियों को फटकार लगाते हुए दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) को निर्देश दिए कि एमसीडी के खिलाफ 20 लाख रुपये जुर्माना लगाया जाए और कानूनी तौर पर सख्त कार्रवाई भी की जाए.

जानकारी के मुताबिक लैंडफिल साइट पर कूड़ा ले जाने वाले ट्रकों के कारण हर तरफ धूल का गुबार था. मंत्री गोपाल राय ने निगम के अधिकारियों से पानी के छिड़काव के बारे में पूछा तो निगम अधिकारी गोलमोल जवाब देते नजर आए. संतोषजनक जवाब न मिलने पर गोपाल राय भड़क गए और निगम के अधिकारियों को तलब कर कड़ी फटकार लगाई. पर्यावरण मंत्री ने अधिकारियों को धूल दबाने के लिए अधिक पानी का छिड़काव सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए और धूल प्रदूषण से निपटने के लिए कदम न उठाए जाने की वजह भी पूछी.

देखें: आजतक LIVE TV

गोपाल राय अधिकारियों को लगाई फटकार
गोपाल राय अधिकारियों को लगाई फटकार

उत्तरी दिल्ली नगर निगम के तहत आने वाले भलस्वा लैंडफिल साइट पर धूल नियंत्रण में लापरवाही बेहद आम बात है. यहां रोजाना सैकड़ों की संख्या में ट्रक कूड़ा लेकर पहुंचते हैं. इसके बावजूद लगातार पानी का छिड़काव नहीं किए जाने की वजह से धूल प्रदूषण ने आसपास के इलाकों में रहने वाले लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि एमसीडी को भलस्वा डम्पिंग साइट पर जल्द से जल्द पानी के टैंकरों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं.

उन्होंने कहा कि डम्पिंग साइट पर पानी का छिड़काव कहीं पर भी नहीं दिख रहा है. इसी वजह से यहां धूल उड़ रही है. गोपाल राय ने कहा कि मुझे लगता है कि डम्पिंग साइट पर पानी का छिड़काव कभी-कभी ही होता होगा. इसीलिए इनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. हमने आगे निर्देश दिया है कि टैंकरों की संख्या दोगुनी की जाए और नियमित रूप से चारों तरफ ठीक से पानी का छिड़काव किया जाए, जिससे धूल उड़ने से रोका जा सके.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें