scorecardresearch
 

दिल्ली में सरकार गठन से बीजेपी को रोकने के लिए राष्ट्रपति के पास पहुंची AAP

दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शाम को राष्ट्रपति से मुलाकात करने के बाद कहा कि दिल्ली की जनता फिर से चुनाव चाहती है.

अरविंद केजरीवाल अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शाम को राष्ट्रपति से मुलाकात करने के बाद कहा कि दिल्ली की जनता फिर से चुनाव चाहती है. उन्होंने साथ ही कहा कि अगर एलजी नजीब जंग बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता देते हैं तो ये जनतंत्र की हत्या जैसा होगा.

आम आदमी पार्टी के कुछ नेताओं के साथ केजरीवाल राष्ट्रपति से मिलने पहुंचे और उन्हें एक ज्ञापन भी सौंपा. इस मुलाकात के बाद उन्होंने कहा, 'हमने राष्ट्रपति से कहा कि दिल्ली में कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और बीजेपी तीन पार्टियां हैं. आप और कांग्रेस ने कहा है कि वो सरकार बनाने में किसी को समर्थन नहीं देंगे. हमने बताया कि मीडिया में ऐसी खबरें आ रही हैं कि एलजी बीजेपी को सरकार बनाने का निमंत्रण देंगे.'

केजरीवाल ने कहा, 'अगर एलजी ऐसा करते हैं तो ये जनतंत्र की हत्या होगी. ऐसा करना संविधान का उल्लंघन होगा. बीजेपी के पास सरकार बनाने के लिए पर्याप्त मेंबर नहीं हैं. बीजेपी विधायकों को खरीद कर बेईमानी से ही सरकार बना सकती है.'

बीजेपी पर हमला करते हुए केजरीवाल बोले, 'दिसंबर में दिल्ली चुनाव के नतीजे आने के बाद बीजेपी नेता डॉ. हर्षवर्धन ने एलजी को पत्र सौंपा था कि हम सरकार नहीं बना सकते क्योंकि हमारे पास मेंबर नहीं हैं. मेरे इस्तीफे के बाद भी बीजेपी ने कहा था कि वो सरकार नहीं बनाएगी क्योंकि उनके पास मेंबर नहीं हैं. बीजेपी और एलजी के बीच कोई आधिकारिक बातचीत नहीं हुई लेकिन कुछ खिचड़ी पक रही है.'

केजरीवाल के मुताबिक, 'एलजी किस आधार पर दिल्ली को सरकार बनाने का न्योता दे सकते हैं? जिस सरकार को न्योता दिया जाता है उससे सपोर्ट लेटर मांगे जाते हैं. हम कहते हैं कि बीजेपी को न्योता देने से पहले सपोर्ट लेटर मांगा जाए. मीडिया में आए दिन तमाम खबरें आ रही हैं. दिल्ली में चुनाव करवाए जाएं, दिल्ली की जनता भी चाहती है कि फिर से चुनाव हों.'

AAP ने राष्ट्रपति को ये ज्ञापन सौंपाः

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें