scorecardresearch
 

केजरीवाल की अमित शाह से अपील, साथ मिलकर दिल्ली को सुरक्षित बनाएं

विधानसभा में चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बहुत दुख होता है, जब रोज यह खबर आती है कि बलात्कार कर किसी बेटी या बहन की हत्या हो गई या जला दिया. हैदराबाद में डॉक्टर को बलात्कार के बाद जला दिया गया.

अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो-PTI) अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो-PTI)

  • CCTV व मार्शल के कारण पकड़े जा रहे अपराधी- केजरीवाल
  • बोले- महिला सुरक्षा के लिए न्यायपालिका 6 माह में दे फांसी

हैदराबाद में महिला डॉक्टर से सामूहिक दुष्कर्म के बाद जलाने की घटना पर सोमवार को दिल्ली विधानसभा में चर्चा हुई. इस दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाया जाना चाहिए. इसके लिए जो भी कदम उठाने की आवश्यकता है. जितना पैसा खर्च करने की आवश्यकता है, दिल्ली सरकार करने को तैयार है. मुख्यमंत्री ने केंद्रीय गृह मंत्री से अपील करते हुए कहा कि केंद्र और दिल्ली सरकार मिलकर दिल्ली की महिलाओं को सुरक्षित बनाने के लिए काम करें.

विधानसभा में चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बहुत दुख होता है, जब रोज यह खबर आती है कि बलात्कार कर किसी बेटी या बहन की हत्या हो गई या जला दिया. हैदराबाद में डॉक्टर को बलात्कार के बाद जला दिया गया. राजस्थान में 6 साल की बच्ची को बलात्कार के बाद मार दिया गया. केरल में 40 साल की महिला को बलात्कार के बाद मार दिया गया. मध्य प्रदेश से इतने सारे वारदात सुनने को मिलते हैं. उत्तर प्रदेश से सुनने को मिलते हैं.

उन्होंने कहा, 'दिल्ली, कोयंबटूर, रांची से बलात्कार की घटनाएं सुनने को मिलीं. यह अपने देश को हो क्या गया है. हमारी बहने- बेटियां देश में अपने आप को बहुत असुरक्षित महसूस कर रही हैं. देश में एक के बाद एक इस तरह की घटनाएं आने से लोगों में गुस्सा भी है. इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए. जिसकी जो जिम्मेदारी है, वह पूरी करे.'

दिल्ली सरकार ने सभी कदम उठाए- केजरीवाल

सीएम ने कहा दिल्ली का मुख्यमंत्री होने के नाते मैं दिल्ली की बात करूंगा. पूरी दिल्ली में हम जनता के बीच जाते थे तो पूरी जनता की मांग होती थी कि सीसीटीवी कैमरे लगवा दीजिए. लोग कहते थे सीसीसीटी कैमरे लगवाने से दिल्ली की महिलाओं को सुरक्षित महसूस होगा. हमने 2.80 लाख सीसीटीवी लगाने का निर्णय लिया. 1.40 लाख कैमरे अभी लग रहे हैं. आज तक 1.05 लाख कैमरे लग गए हैं. दूसरे 1.40 लाख कैमरों का टेंडर हो गया, जल्द ही कैमरे लगाने का काम दे दिया जाएगा.

उन्होंने कहा, 'इस तरह 2.80 लाख सीसीटीवी कैमरे पूरी दिल्ली में लगने जा रहे हैं. पूरी दुनिया में इतने  बड़े पैमाने पर सीसीटीवी कैमरे 6 माह में कहीं नहीं लगे. यह हम बढ़ते अपराध व महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखकर युद्ध स्तर पर कर रहे हैं. इसके अलावा 2 लाख स्ट्रीट लाइट लगने जा रही हैं. एक सप्ताह में टेंडर हो जाएगा. इससे डार्क स्पॉट खत्म हो जाएंगे. दिल्ली की कई कॉलोनियों में हमने गेट लगवाए. गेट लगने से कई कालोनियों में लोग रात में खुद को सुरक्षित महसूस करते हैं.'

सीसीटीवी व मार्शल के कारण पकड़े जा रहे अपराधी

सीएम ने कहा, 'दिल्ली की बसों में एक साथ 13 हजार मार्शल नियुक्त किए गए हैं. पिछले एक माह से जबसे यह नियुक्ति हुई है, बस मार्शल ने कई घटनाएं रोकी हैं. इसी तरह सीसीटीवी की वजह से कई अपराधी पकड़े गए. जैसे-जैसे सीसीटीवी लगेंगे अपराधियों को पता चलेगा, अपराधियों में डर होगा. इतने सारे कदम दिल्ली सरकार ने महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए उठाए हैं. फिर भी हम यह नहीं कहते हमने सारा काम कर दिया, हमें अभी बहुत कुछ करना है.'

महिला सुरक्षा के लिए न्यायपालिका 6 माह में दे फांसी

सीएम ने कहा, 'दिल्ली में लास्ट माईल कनेक्ट पर भी काम हो रहा है. उसे दूर करेंगे. केंद्र के पास दिल्ली की कानून व्यवस्था व दिल्ली पुलिस है. केंद्र सरकार से अपील है कानून व्यवस्था को ठीक किया जाए. दिल्ली पुलिस के पास न्याय नहीं मिलता है. पुलिस के पास या तो भ्रष्टाचार मिलता है या पीड़ित को दुतकार दिया जाता है. इसे ठीक करना है. यह ठीक हो सकता है. ऐसा नहीं है कि यह हो नहीं सकता. इसे मिलकर ठीक करने की जरूरत है.'

उन्होंने कहा, 'ऐसा नहीं है कि दिल्ली पुलिस को ठीक नहीं किया जा सकता, यह काम केंद्र और दिल्ली सरकार को मिलकर करना होगा. न्यायपालिका को भी काम करना होगा. घटनाएं कई कई साल कोर्ट में चलती हैं. बलात्कार के मामले में कई साल केस चलते हैं. दोषियों पर जल्द कार्रवाई न हो तो अपराधियों का मनोबल बढ़ता है. न्यायपालिका को मिशन मोड पर जजमेंट देना चाहिए. यह व्यवस्था होनी चाहिए कि आरोपी को 6 माह में फांसी की सजा मिल जाए, जिससे यह मैसेज जाए कि जो गलत करेगा, उसे छोड़ा नहीं जाएगा.'

समाज को भी निभानी होगी जिम्मेदारी

सीएम ने कहा, 'समाज को भी आगे आकर काम करना होगा. हमारे युवाओं को यह क्या हो गया है. हमे अपने अपने घर में बेटों-भाइयों को समझाना होगा कि उनकी मानसिकता क्यों खराब हो रही है. आज किसी और के साथ गलत कर रहे हो, तुम्हारे घर में ऐसा हुआ तो क्या गुजरेगी. मैं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया से निवेदन करता हूं कि कोई कोर्स दिल्ली के स्कूलों में चल सकता है तो चलाएं, जिससे युवाओं को समझदार बनाया जा सके. समाज को भी काम करना होगा.'

केंद्रीय गृह मंत्री से अपील, मिलकर दिल्ली को सुरक्षित बनाएं

सीएम ने कहा, 'आज हम चाहते हैं कि जो भी रेप व हत्या के दोषी हैं, उन्हें इतनी कड़ी सजा दें कि रूह कांप उठे. जिससे कोई भी इस तरह के अपराध की हिम्मत न जुटा सके. मैं गृह मंत्री जी से अपील करता हूं कि आइ.ए मिलकर अपराध की समस्या का समाधान करें.'

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को रेप कैपिटल कहने पर किसी को अच्छा नहीं लगता, वह चाहें किसी पार्टी का हो. हम काम करना चाहते हैं. महिलाओं के लिए सुरक्षित माहौल बनाना चाहते हैं. हम महिलाओं को सुरक्षित करना चाहते हैं. हम जो भी कदम उठाने की जरूरत है, उठाना चाहते हैं. जितना पैसा खर्च करना होगा करेंगे. हम गृह मंत्री जी से अपील करते हैं, आइए मिलकर दिल्ली को सुरक्षित बनाएं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें