scorecardresearch
 

इन पांच आरोपों ने कपिल मिश्रा को बना दिया 'AAP' का दुश्मन

जल मंत्री के पद से हटाए जाने के बाद अरविंद केजरीवाल के सबसे खास मंत्री रहे कपिल मिश्रा ने केजरीवाल और पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. बुधवार को दिल्ली विधानसभा में कपिल मिश्रा ने सिसोदिया के इशारे पर आप विधायकों द्वारा मारपीट का आरोप लगाया.

अरविंद केजरीवालकपिल मिश्रा और अरविंद केजरीवालकपिल मिश्रा और

कपिल मिश्रा और आम आदमी पार्टी के बीच की लड़ाई थमने का नाम ही नहीं ले रही है. बुधवार को दिल्ली विधानसभा में कपिल मिश्रा को पीटा गया. उन्होंने इस मारपीट का आरोप सिसोदिया के ऊपर लागाया है. बता दें कि केजरीवाल ने 6 मई को कपिल को जलमंत्री के पद से हटाया था. तभी से इनके बीच लड़ाई अपने जोर पर है. जानिए केजरीवाल के सबसे खास मंत्रियों में रहे कपिल मिश्रा पार्टी और केजरीवाल के इतने विरोधी कैसे बन गए. इसमें उन आरोपों का सीधा-सीधा हाथ है जो कपिल मिश्रा ने पिछले एक महीने में केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के नेताओं पर लगाए.

ये लगाए थे आरोप
1. केजरीवाल पर 2 करोड़ लेने का आरोप
कपिल ने अरविंद केजरीवाल के ऊपर 2 करोड़ रुपये लेने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि 'फर्जी कंपनियों ने आम आदमी पार्टी को 2 करोड़ का चंदा दिया था. इस पर अरविंद केजरीवाल ने बोला कि उन्हें इस कंपनी के बारे में नहीं पता. जबकि सच तो ये है कि ये पैसा उनके साथ रहने वाले लोगों की कंपनियां हैं. साथ ही उन्होंने आम आदमी पार्टी के विधायक शिवचरण गोयल पर फर्जी कंपनी बनाने का आरोप लगाया. कपिल ने दावा किया कि शिवचरण और उनकी पत्नी की कई फर्जी कंपनियां हैं, जिनके जरिए उन्होंने आम आदमी पार्टी को काला धन दिया.

2.टैंकर घोटाले में शीला दीक्षित को बचाने का आरोप
बता दें कि कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर शीला दीक्षित को बचाने का आरोप लगाया था. टैंकर घोटाले को लेकर एसीबी को सबूत देने के बाद कपिल मिश्रा ने दफ्तर से बाहर निकल कर मीडिया से बात की. उन्होंने बात करते हुए दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाया था कि टैंकर घोटाले की जांच में उन्‍होंने शीला दीक्षित को बचाने का प्रयास किया था. उन्‍होंने जांच प्रभावित करने की कोशिश की थी. कपिल मिश्रा ने टैंकर घोटाले में आशीष तलवार और विभव पर फाइल दबाने का आरोप लगाया था.

3.सत्येंद्र जैन पर गड़बड़घोटाले का आरोप
कपिल ने केजरीवाल और सत्येंद्र जैन पर दो करोड़ की घूस का सनसनीखेज आरोप लगाया था. उन्होंने कहा था कि मैंने अपनी आंखों से अरविंद केजरीवाल को उनके घर पर सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपए लेते देखा. मैंने पूछा कि यह क्या है, तो उन्होंने कुछ नहीं बताया. मैंने पूछा कि यह कैश कहां से आया, आप सारे विधायकों को बताइए. यदि ग़लती हुई है तो आप माफ़ी मांगिए. उसके बाद विधायकों की बैठक हुई लेकिन उसमें इस पर कुछ नहीं बताया.

4. पार्टी चंदे में हवाला कनेक्शन का आरोप
पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल पर हवाला कनेक्शन का आरोप लगाया था. पार्टी के चंदे में गड़बड़ियों पर उन्होंने कहा, आप नेताओं ने दिल्ली के कारोबारी मुकेश शर्मा का वीडियो वायरल कर सोशल मीडिया में झूठ फैलाया था. कपिल मिश्रा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक प्रजेंटेशन देकर बताया था कि फर्जी लेटरहेड बनाकर मुकेश को 4 कंपनियों का डायरेक्टर बताया गया था, जबकि चंदा देते वक्त वो डायरेक्टर नहीं थे. केजरीवाल इनकम टैक्स को गुमराह करने का काम कर रहे हैं.

5. AAP नेताओं के विदेश दौरों पर सवाल
कपिल ने आप के नेताओं के विदेश दौरों पर सवाल उठाऐ थे. कपिल ने अरविंद से पूछा था कि वो बताऐ की आप के नेताओं के पास विदेश दौरे के लिए पैसे कहा से आऐ. साथ ही वो अनशन पर भी बैठ गऐ थे. उनका कहना था कि जब तक केजरीवाल ये बताएंगे नहीं वो अन्न का एक भी दाना नहीं खाऐंगे. साथ ही उन्होंने कहा था कि सरकार चलाने के लिए विदेश दौरे की जरूरत नहीं पड़ती है.


ये था पूरा मामला
केजरीवाल ने 6 मई को कपिल को जलमंत्री के पद से हटाया था. उन्होंने केजरीवाल पर सत्येंद्र जैन के हाथों 2 करोड़ कैश लेने का आरोप लगाया था. उन्होंने केजरीवाल पर अपने रिश्तेदार के लिए 50 करेाड़ की लैंड डील का आरोप भी लगाया . सीबीआई में केजरीवाल के खिलाफ 3 शिकायतें दर्ज कराई. इस पर केजरीवाल ने कपिल को पार्टी से 8 मई को सस्पेंड कर दिया था. इस कार्रवाई के बाद कपिल 10 मई से अनशन पर बैठ गए. कपिल ने आप नेता संजय सिंह, राघव चड्ढा, आशीष खेतान, सत्येंद्र जैन और दुर्गेश पाठक के विदेश दौरों की डिटेल की मांग पर अनशन शुरू किया. तबीयत बिगड़ने पर छठे दिन (15 मई) को अनशन खत्म किया. कपिल ने आप पर चुनाव आयोग और IT डिपार्टमेंट को पार्टी फंड की सही जानकारी न देने और फर्जी कंपनियों के जरिये मनी लॉन्ड्रिंग का भी आरोप लगाया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें